पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बीमार पत्नी को घर में छोड़ ड्यूटी कर रहे डॉक्टर:संग्रामपुर PHC प्रभारी अपनी टीम के साथ महामारी में फर्ज निभा रहे, घर में पत्नी कोरोना से जंग लड़ रही

संग्रामपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोविड के इलाज औश्र जांच में लगी सुग्रामपुर PHC के प्रभारी अधिकारी और उनकी टीम। - Dainik Bhaskar
कोविड के इलाज औश्र जांच में लगी सुग्रामपुर PHC के प्रभारी अधिकारी और उनकी टीम।

मोतिहारी के संग्रामपुर PHC के प्रभारी पदाधिकारी की पत्नी घर में अकेली कोरोना से लड़ रही है और डॉक्टर बाहर अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। महामारी के दौर में उनकी टीम दूसरों के लिए प्रेरणा बन रही है। प्रभारी पदाधिकारी डॉ नीरज कुमार जांच, टीकाकरण में दिन-रात अपनी टीम के साथ लगे हुए हैं। दो दिनों में प्रखण्ड के मंगलापुर में कोविड संक्रमण से एक ही पंचायत में दो लोगों की मौत हो चुकी है। डॉ. नीरज अपनी टीम की अगुआई करते हुए इस पंचायत के संक्रमित परिवारों के लोगों की जांच कर पूरे क्षेत्र को सैनिटाइज करने में लगे हुए हैं।

लोगों को बचाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे
डॉ नीरज कुमार का कहना है कि जो पूरे प्रयास के बाद भी हमसे दूर हो गए उनके लिए पीड़ा तो है ही, लेकिन जो बचे हुए लोग हैं उनकी सुरक्षा जिस तरह हो करते हुए पूरे प्रखंड से कोविड को दूर भगाएंगे।

पत्नी बढ़ा रहीं हौसला, रख रहीं अपना खुद ख्याल
डॉ नीरज ने बताया कि उनकी पत्नी डॉ शीतल नरूला अरेराज PHC की प्रभारी चिकित्सक हैं। लोगों के इलाज के दौरान उन्हें संक्रमण हो गया। जांच के बाद जब पता चला तो वह खुद ही होम आइसोलेट होकर जरूरी दवा और परहेज करने लगीं, लेकिन पति को अपनी ड्यूटी के लिए हौसला बढ़ा रही हैं।

टीकाकरण में लोगों की रुचि बढ़ाएंगे
डॉ नीरज के अनुसार प्रखंड के अधिकतर गांवों में लोगों में अशिक्षा के कारण टीकाकरण को लेकर तरह-तरह की अफवाह फैल जा रही है। इससे टीका के लिए जितनी संख्या में लोगों को आना चाहिए, उस औसत से लोग नहीं आ पा रहे हैं। इसके लिए BDO दृष्टि पाठक के सहयोग से जागरुकता अभियान चला रहे हैं।

खबरें और भी हैं...