सीवर टैंक में दम घुटने से 4 की मौत:पूर्वी चंपारण में छोटे भाई को बचाने गया था बड़ा भाई, दोनों नहीं निकले तो 3 और अंदर घुसे; 4 की मौत; बच्चे की हालत गंभीर

मोतिहारीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घटनास्थल पर रोते-बिलखते परिजन। - Dainik Bhaskar
घटनास्थल पर रोते-बिलखते परिजन।

पूर्वी चंपारण में छोटे भाई को बचाने में बड़े भाई समेत चार लोगों की मौत हो गई। वहीं, निकाले गए बच्चे की स्थिति गंभीर बनी हुई है। घटना कोटवा थाना क्षेत्र के अहिरौलिया गांव के कुम्हारटोली की है। गुरुवार की शाम दुखी पंडित के नव निर्मित शौचालय की टंकी में पड़ोसी गाजर पंड़ित का छह वर्षीय पोता अमित उर्फ गुरदेल गिर गया। टंकी में करीब डेढ़ से दो फीट पानी जमा था। घटना के बाद उसका बड़ा भाई नीरज बचाने के लिए अंदर घुसा। उसे नहीं निकलता देख एक-एक कर तीन अन्य भी घुस गए। जब कोई बाहर नहीं निकला। तब स्थानीय लोगों ने अंदर जाने से लोगों को रोक दिया।

निजी अस्पताल में मौत

इस दौरान मृतक अमित के बड़े भाई नीरज समेत दो लोगों की मौत हो चुकी थी, जबकि बच्चे समेत 3 लोगों की सांस चल रही थी। इसे देख कर स्थानीय लोग चारों को लेकर कोटवा एक निजी चिकित्सक के क्लीनिक पर पहुंचे, जहां चिकित्सक ने दो लोगों को मृत घोषित कर दिया। बाकी दो लोगों की गंभीर स्थिति को देखते हुए रेफर कर दिया। इसके बाद दो लोगों को लेकर परिजन मोतिहारी के एक निजी अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

गांव में मातम

घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस के अनुसार शौचालय की टंकी में दम घुटने से 4 लोगों की मौत हुई है। मामले में आगे की कार्रवाई चल रही है। मृतकों में 36 वर्षीय राजू पंडित, 36 वर्षीय बिगु साह, 22 वर्षीय राहुल कुमार तथा 14 वर्षीय नीरज कुमार शामिल हैं। इस हादसे के बाद गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।

खबरें और भी हैं...