मोतिहारी में तत्कालीन डाक सहायक पर FIR:प्रधान डाकघर में 9.30 लाख का गबन मामला; डाक अधीक्षक के बयान पर हुआ केस; जान पहचान के लोगों के खातों में हुआ था पैसा ट्रांसफर

मोतिहारी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

मोतिहारी प्रधान डाकघर में पीएलआई, आरपीएलआई की राशि लेखा कार्यालय के सिड्यूल ब्रांच के डाक सहायक मनीष कुमार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। मामला 9.30 लाख रुपए के गबन से जुड़ा हुआ है। मामले को लेकर डाक अधीक्षक रामनाथ शर्मा ने मनीष कुमार पर नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है। दर्ज प्राथमिकी में बताया गया है कि कुंडवा चैनपुर थाना क्षेत्र के बरवा खुर्द गांव निवासी मनीष कुमार प्रधान डाकघर के लेखा कार्यालय में कार्यरत थे। वे वर्तमान में निलंबित हैं।

डाक अधीक्षक ने बताया कि सीपीसी ब्रांच के रजिस्टर में छेड़छाड़ करते हुए नकली, परिपक्कव तथा व्यतित पॉलिसी का निर्माण करने के बाद अपनी जान पहचान के लोगों के खातों में धनराशि ट्रांसफर कर दी गई है। उसके बाद उस सरकारी धनराशि को गबन करने के उदेश्य से जमा कर दिया गया है तथा उक्त राशि को अपने परिचितों के खाता में ट्रांसफर कर दिया गया है।

इसमें नगर थाना क्षेत्र के श्रीकृष्ण नगर मुहल्ला निवासी रिंकी कुमारी, बेलबनवा निवासी कुमारी अनीता, पिपरा थाना क्षेत्र के चिंतामनपुर के मनोज कुमार के खाते में 9 लाख 30 हजार 40 रुपए की निकासी करते हुए सरकारी धनराशि का गबन किया गया है। बताया गया है कि उक्त राशि का घोटाला मनीष कुमार ने किया है। थानाध्यक्ष विजय प्रसाद राय ने बताया कि आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। तुरंत मामले की जांच कर दोषी लोगों के खिलाफ समुचित कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...