पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मोतिहारी में चलेगी 'लालू की नाव':RJD नेताओं ने 14 नाव की व्यवस्था की, जहां नाव ही है सहारा वहां लोगों की करेंगे मदद

मोतिहारी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
RJD नेतृत्व की पहल पर नेताओं ने अपनी खर्च पर नाव की व्यवस्था की है। - Dainik Bhaskar
RJD नेतृत्व की पहल पर नेताओं ने अपनी खर्च पर नाव की व्यवस्था की है।

मोतिहारी में बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की नाव चलेगी। ताकि बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों को आने-जाने में सुविधा हो। RJD नेतृत्व की पहल पर पार्टी नेताओं ने अपने खर्च पर नाव की व्यवस्था की है। यह नाव बाढ़ प्रभावित सभी क्षेत्रों में घूमेगी तथा बाढ़ से घिरे परिवारों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने में मदद करेगी।

RJD नेता सैयद फैसल अली ने बताया कि बाढ़ पीड़ितों के लिए सरकारी स्तर से की गई व्यवस्था कम पड़ रही है। इस कारण बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों को नाव के अभाव में काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसलिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्देश पर नेताओं ने अपने खर्च पर 14 नाव की व्यवस्था की है। नाव बाढ़ग्रस्त इलाकों में जरूरत के अनुसार चलेगी।

अभी भी कई हिस्सों में है पानी

जिले में अब बाढ़ का पानी कम हो रहा है। बावजूद अभी जिले के कई इलाके बाढ़ के पानी से घिरे हैं। अभी कई क्षेत्र ऐसे हैं, जहां नाव ही आने-जाने का एकमात्र सहारा है। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सरकारी और प्राइवेट नाव चल रही है। अभी भी कई बाढ़ प्रभावित क्षेत्र है, जहां नाव की सुविधा नहीं है।

पौने दो लाख क्यूसेक तक पहुंचा गंडक डिस्चार्ज

गंडक नदी का डिस्चार्ज लेवल मंगलवार को 1.72 लाख क्यूसेक तक पहुंच गया है। सोमवार को गंडक नदी का डिस्चार्ज 1.44 लाख क्यूसेक पर था। 24 घंटों से डिस्चार्ज लेवल में वृद्धि हो रही है। वैसे नदी के जलस्तर में कमी आने से दियारा क्षेत्र के लोग राहत की सांस ले रहे है। पश्चिमी चंपारण जिले के बाल्मीकिनगर बराज से गंडक नदी के डाउनस्ट्रीम में प्रति दो घंटे पर 1.70 से 1.80 लाख क्यूसेक के बीच पानी डिस्चार्ज की जा रही है।

खबरें और भी हैं...