पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शर्मनाक घटना:साइकिल चोर को पहले बांध कर पिटवाया, फिर 13-13 सौ रुपए जुर्माना लगाया, उसके बाद बाल मुड़वाकर गांव में घुमाया

मोतिहारी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वीडियो वायरल होने पर पांच दिन बाद दर्ज की गई प्राथमिकी, पांच पंचों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

ढाका थाना के विशंभरपुर गांव में 15 अगस्त को साइकल चोरी के आरोप में घर से खींच कर पंचायती के दौरान तीन युवकों से जुर्माना वसूलने व सर मुड़ाकर गांव में घुमाने के आरोप में पुलिस ने गुरुवार को प्राथमिकी दर्ज की। पंचायती में आगे रहने वाले पांच आरोपियों को बुधवार की रात गिरफ्तार किया गया, जिसमें कपिलदेव पासवान व प्रमोद राम तथा नाई मिश्रीलाल ठाकुर सहित दो अन्य शामिल है। घटना की बाबत पुलिस ने पांच दिन बाद पीड़ित युवक के पिता भरदुल साह के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज की, जिसमें पकड़े गए पांचों आरोपियों के अलावा तीन अन्य का भी नाम है। वहीं 6 अज्ञात लोगों को भी अभियुक्त बनाया गया है।

कपिलदेव की चोरी हुई थी साइकिल

बताया जाता है कि पिछले दिनों कपिलदेव पासवान की साइकिल चोरी हो गई थी। उसने जब एक कबाड़ दुकानदार से पूछताछ की तो वह गांव के तीन युवकों के नाम का खुलासा किया। उसके बाद 15 अगस्त को कपिलदेव पासवान व कुछ अन्य लोग भरदुल के घर पहुंच गए। सभी दबंगई दिखाते हुए उसके पुत्र, इंद्रदेव महतो के पुत्र तथा एक अन्य किशोर को घर से खींचकर बाहर ले गए। वहां उपरोक्त लोगों ने पहले से ही पंचायती बिठा रखी थी। पंचायती में यह निर्णय लिया गया कि तीनों का हाथ-पैर बांध कर पिटाई की जाए, ताकि वह सब सारा राज उगल दे। फिर पंचों ने यह फरमान भी सुनाया कि तीनों मिलकर साइकिल का दाम यानी 13-13 सौ रुपए जुर्माना चुकता करे।

हाथ-पैर तोड़ने की दी थी धमकी

गांव के हजाम को बुलाकर तीनों के बाल मुड़वाकर गांव में घुमाने का निर्देश जारी किया गया। ताकि आगे से फिर वह सब ऐसा कार्य न करें। पंचों के निर्णय के बाद तीनों को बाल मुड़वा कर गांव में घुमाया गया। साथ ही जाते-जाते सभी यह धमकी देते गए कि यदि इस घटना को लेकर कोई सूचना थाना या पुलिस को दी, तो सभी का हाथ-पैर तोड़कर घर में बैठा देंगे। इस डर से वे सभी घर में दुबके व डरे-सहमे रहे। पर सारी घटना की किसी ग्रामीण ने वीडियो बना ली और उसे वायरल कर दिया। पंचायती के चार दिनों के बाद पुलिस पहुंची और उन लोगों की हिम्मत बढ़ाई। तब पीड़ितों ने आवेदन दिया।

यह दुस्साहस संज्ञेय अपराध है। किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं है। हर विधि सम्मत कार्रवाई की जा रही है। पांच लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। - शिवेंद्र कुमार अनुभवी, एसडीपीओ, सिकरहना

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें