पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चेतावनी:मांगें पूरी नहीं होने पर आंदोलन कर लाइसेंस सरेंडर करेंगे खाद विक्रेता

मोतिहारी16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नरसिंह बाबा मंदिर परिसर में बैठक करते उर्वरक विक्रेता संघ के सदस्य। - Dainik Bhaskar
नरसिंह बाबा मंदिर परिसर में बैठक करते उर्वरक विक्रेता संघ के सदस्य।
  • उर्वरक विक्रेताओं ने बैठक कर समस्याओं के निराकरण को कहा

खुदरा खाद विक्रेताओं की बैठक शहर के नरसिंह बाबा मंदिर प्रांगण में जिला उर्वरक विक्रेता संघ के जिलाध्यक्ष राजीव रंजन की अध्यक्षता में हुई। जिसमें खुदरा खाद विक्रेताओं ने अपनी समस्याओं पर चर्चा की। जिलाध्यक्ष ने कहा कि खुदरा व्यवसायियों को एक बोरा खाद खरीदकर उसे गोदाम तक लाने में करीब 300 रुपए की लागत आती है। सरकार ने 266 रुपए प्रति बोरी खाद बेचने का दर निर्धारित किया है। ऐसे में सरकारी दर पर उर्वरक बेचना खुदरा व्यवसायियों के लिए घाटे का सौदा बन गया है। इसपर सरकार व विभाग को विचार करना चाहिए। कहा कि थोक विक्रेता खुदरा विक्रेताओं पर जबरन दवा उठाव करने का दबाव बनाते हैं। किसान दवा नहीं खरीदते, इससे उनकी पूंजी फंस जाती है। पीओएस मशीन से उर्वरक बिक्री की व्यवस्था होने के बाद भी कृषि कार्यालय द्वारा विक्रय पंजी व संधारण पंजी का समायोजन करने को ले अतिरिक्त बोझ डाला जा रहा है।

खबरें और भी हैं...