पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आदेश जारी:जिले में कार्यरत सभी नियोजित शिक्षकों की फाइल फोल्डर एनआईसी पर अपलोड करने का निर्देश

मोतिहारी17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में कार्यरत सभी नियोजित शिक्षकों की फाइल फोल्डर एनआईसी पर अपलोड होगी। इसको लेकर डीपीओ स्थापना प्रफुल्ल कुमार मिश्रा ने सभी बीईओ को आदेश जारी किया है। निदेशक के पत्र का हवाला देते हुए लिखा है कि पंचायती राज संस्था व नगर निकाय संस्था के अंतर्गत वर्ष 2006-15 की अवधि में नियुक्त शिक्षकों का प्रमाणपत्र एनआईसी के वेब पोर्टल पर अपलोड करना है। इसमें ऐसे शिक्षक जिनका प्रमाण पत्र जांच के लिए निगरानी विभाग को सुपुर्द किया गया है व नहीं किया गया है, सभी शामिल होंगे। इसके लिए डीपीओ स्थापना कार्यालय से प्रखंडवार कार्यरत नियोजित शिक्षकों की सूची जारी की गयी है। इसी आधार पर सभी बीईओ को निर्देश दिया गया है कि वह अपने-अपने क्षेत्र के नियोजित शिक्षकों की फाइल फोल्डर एनआईसी पर अपलोड कराना सुनिश्चित करें।

निगरानी को अब तक नहीं मिले पूर्ण फोल्डर

बता दें कि नियोजित शिक्षकों के फाइल फोल्डर में जमा प्रमाणपत्रों की जांच निगरानी द्वारा करायी जा रही है। मगर, जिले में कार्यरत सभी शिक्षकों की फाइल फोल्डर अब तक निगरानी को उपलब्ध नहीं करायी जा सकी है। स्थापना शाखा की पिछली बैठक में अनुमंडलवार अपूर्ण फोल्डरों को पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया था। इसके बाद भी कई बार निर्देश दिया गया। मगर, निगरानी जांच के लिए शिक्षकों की पूर्ण फोल्डर अब तक उपलब्ध नहीं करायी जा सकी है।

दो दिनों में अपलोड कराएं नियोजित शिक्षकों की सूची

डीपीओ ने सभी बीईओ को निर्देश दिया है कि अबतक प्राप्त फोल्डर को जांच के लिए निगरानी को उपलब्ध कराया जा चुका है। मगर, निगरानी के प्रतिवेदन के आधार पर इसके पूर्ण-अपूर्ण होने की अस्पष्टता है। इसीलिए 2006 से 2015 तक नियोजित कुल शिक्षकों की सूची जिले की एनआईसी के वेब पोर्टल पर अपलोड कराना सुनिश्चित करें। डीपीओ स्थापना ने दो दिनों के भीतर नियोजित शिक्षकों की सूची अपलोड कराने का निर्देश दिया है। साथ ही अपलोड कराए गए शिक्षकों की सूची की सॉफ्ट और हार्ड कॉपी निगरानी जांच प्रभारी लिपिक गौरीशंकर महतो को हाथों-हाथ उपलब्ध कराने को कहा है।

441 नियोजन इकाइयों में 15662 नियोजित शिक्षक दे रहे सेवा

विभाग से जारी सूची के मुताबिक 2006 से 2015 तक जिले में 15662 नियोजित शिक्षकों की नियुक्ति की गयी है। जिले की 441 नियोजन इकाईयों में नौ नगर, 27 प्रखंड व 405 नगर पंचायत इकाइयां हैं। इनमें अलग-अलग प्रखंडों में कुल 15662 नियोजित शिक्षकों की नियुक्ति की गई है। उल्लेखनीय है कि नियोजित शिक्षकों की भर्ती गड़बड़ी की गई थी। इस कारण इनकी जांच का मामला निगरानी विभाग को सौंपा गया था। लेकिन कई में रिमांइडर भेजने के बाद भी विभाग ने इनके फाेल्डर नहीं जमा कराए हैं।

खबरें और भी हैं...