स्वास्थ्य समिति:सामग्री खरीद मामले की टीम ने शुरू की छानबीन

मोतिहारी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दवा दुकान से पलंग खरीदने का लगाया गया था बिल

जिला स्वास्थ्य समिति के साथ मिलकर केसरिया एमओआईसी ने आयुष्मान भारत योजना की राशि का पिछले दिनों लूटखसोट किया था। इस योजना की राशि से सोफा, दीवान पलंग और बिल्डिंग मटेरियल की खरीदी की थी।

लेकिन, कैशमेमो सर्जिकल दवा दुकान का लगा दिया था। इसको लेकर दैनिक भास्कर में 23 मार्च को प्रमुखता से खबर छपी थी। खबर पर संज्ञान लेते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जांच टीम का गठन किया था।

सोमवार को दो सदस्यीय जांच टीम जिला स्वास्थ्य समिति पहुंच पूरे मामले को खंगाला। टीम में राज्य स्वास्थ्य सुरक्षा समिति के निदेशक ऑपरेशन आलोक रंजन व वित्त नियंत्रक राजन निर्झर शामिल हैं। टीम के सदस्यों ने केसरिया के एमओआईसी डॉ. श्रवण पासवान से पूरी जानकारी ली। चंपारण सर्जिकल्स व गणपति सर्जिकल की कैशमेमो भी देखी। खरीदारी से संबंधित सभी कागजातों को जांच के लिए अपने पास रख लिया।

टीम ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर जांच किया जा रहा है। आज पहला दिन है। इसके बाद भी जांच जारी रहेगी। आयुष्मान भारत योजना की राशि से केसरिया के एमओआईसी डॉ. श्रवण पासवान ने सोफा, दीवान पलंग व बिल्डिंग मटेरियल की खरीदारी की थी। लेकिन, कैशमेमो सर्जिकल दुकान का लगा दिया था।

खबरें और भी हैं...