पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नौ सूत्री मांग:5 साल से बकाया मानदेय का भुगतान करने सहित अन्य मांगों को लेकर उपमुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन

मोतिहारी3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मिट्टी जांच प्रयोगशाला में मृदा विश्लेषक मानव बल को संविदा पर नियुक्त करें

मृदा विश्लेषकों ने अपनी नौ सूत्री मांगों के समर्थन में उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद को ज्ञापन सौंपा। जिसमें कहा गया है कि बिहार के सभी जिलों के जिला मिट्टी जांच प्रयोगशाला में नियोजित मृदा विश्लेषक मानव बल को संविदा पर नियुक्त करने व मुख्यमंत्री द्वारा गठित उच्चस्तरीय समिति द्वारा अनुशंसित लाभ देने व विगत पांच वर्षों से बकाया मानदेय का भुगतान करने सहित अन्य समस्याओं का निदान कराना शामिल है। मृदा विश्लेषकों की मुख्य मांग संविदा पर नियुक्त करने के संबंध में प्रधान सचिव व विशेष सचिव कृषि विभाग के पत्र के तहत जिला मिट्टी जांच प्रयोगशाला में कार्यरत मानव बल संविदा पर कार्यरत है।

परंतु, बिहार मिट्टी जांच प्रयोगशाला पटना के संयुक्त निदेशक व उपनिदेशक रसायन के द्वारा टालमटोल की नीति के कारण संविदा आधारित नियुक्ति पत्र नही दिया गया है और कहा जा रहा है कि मानव बल दैनिक वेतन भोगी है। कृषि निदेशक व सामान्य प्रशासन बिहार के पत्र के आलोक में सभी विभागों को उच्च स्तरीय समिति के समक्ष संविदा पर नियुक्त कर्मियों से संबंधित सूचना मांगी गई थी। इसके बावजूद मृदा विश्लेषकों की सूची किस कारण से नही भेजी गई।

मृदा विश्लेषकों का मानदेय भारत सरकार के एनएमएसए योजना के तहत भुगतान किया जाता है। जिसके कारण राशि आवंटन में विलंब होता है। इनका मानदेय नियत कर राज्य योजना से भुगतान करने को निदेशित करने, मृदा विश्लेषकों का मानदेय करीब पांच वर्षों से लंबित है जो घोर कष्टदायक के साथ मानवाधिकारों का उल्लंघन है। अतएव शीघ्र भुगतान अपेक्षित व अनिवार्य है सहित कई मांगें शामिल है। मौके पर संविदा मृदा विश्लेषक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अरुण कुमार गिरि, अजय सिन्हा, विकास, राजमोहन सिंह आदि थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser