मोतिहारी थाने में बैठ रहे प्राइवेट एजेंट:वीडियो सामने आने के बाद हुआ हंगामा, SP ने थानेदार से पूछा सवाल; क्या प्राइवेट एजेंट ही निपटा रहा था थाने का सब काम

मोतिहारीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर देखकर सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस एजेंट की थाने में कितनी चलती है। - Dainik Bhaskar
तस्वीर देखकर सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस एजेंट की थाने में कितनी चलती है।

पूर्वी चंपारण जिले के एक थाना में एजेंट की चलती-बनती है। वह जो चाहता है, वही थाने में होता है। मामला कुंडवा चैनपुर थाना का है। इसको लेकर सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इसे देखकर सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस एजेंट की थाने में कितनी चलती है। वह न पुलिसकर्मी है और न कोई सरकारी अधिकारी। इसके बावजूद वह थाने में बैठकर फाइलों का निबटा रहा है। थाना में उसका इतना भय है कि वह थानाध्यक्ष के बगल वाले कमरे में रहता है। भले ही अन्य पुलिस पदाधिकारियों को कमरा नसीब नहीं हो।

जमीन व अन्य मामले का वही करता है समाधान

इतना ही नहीं, थाना के सभी जमीन संबंधी काम व अन्य मामलों का समाधान वही करता है। इसका जीता-जागता उदाहरण थाना भवन में बैठकर कम्प्यूटर चलाते हुए देखा जा सकता है। लोग कह रहे हैं कि उस एजेंट का नाम तारीक अनवर है तथा थानेदार के बाद किसी की चलता है, तो उसी की चलती है।

वीडियो मामले को लेकर लगातार चर्चा में है थाना

कुंडवा चैनपुर थाना आजकल वायरल वीडियो के मामले को लेकर लगातार चर्चा में है। जनवरी माह में नेपाली लड़की के साथ गैंगरेप के बाद हत्या कर शव जलाने मामले में तत्कालीन थानेदार संजीव रंजन का ऑडियो वायरल होने के बाद उनको अप्राथमिकी अभियुक्त बनाते हुए निलंबित कर दिया गया था। दूसरा वीडियो नेपाल से तस्करी करने वाले तस्कर से छोटा बाबू द्वारा पैसा मांगने तथा चौकीदार व तस्कर के थानेदार के नाम पर महीना वसूली का वीडियो वायरल हुआ था।

मामले को लेकर एसपी के निर्देश पर सिकरहना डीएसपी अभी जांच ही कर रहे थे कि तीसरा मामला सामने आ गया। जिसमें महिला कॉन्स्टेबल ने थाना मुंशी पर रायफल तान दिया। इसको लेकर मुंशी ने थाने में सनहा दर्ज कराया था। तुरंत अब चौथा वीडियो सामने आ गया है, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। इस बाबत कुंडवा चैनपुर थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार को फोन करने पर उन्होंने फोन नहीं उठाया। जिससे उनसे बात नहीं हो सकी है।

इस मामले में एसपी नवीन चन्द्र झा ने थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार से स्पष्टीकरण मांगा है। बताया कि थाना में प्राइवेट व्यक्ति को रखना गंभीर मामला है। जो भी इस मामले में शामिल होंगे बक्शे नहीं जाएंगे। सभी पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

तस्कर से पैसा मांगने के मामले में भी कार्रवाई

एसडीपीओ के जांच रिपोर्ट सौंपने के बाद पेट्रोलिंग के दौरान तस्कर से पैसा मांग रहे वायरल वीडियो मामले को लेकर एएसआई प्रमोद कुमार राव व चौकीदार योगेन्द्र राय को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। आरक्षी चालक सविनय कुमार से स्पष्टीकरण मांगा गया है। साथ ही अगले आदेश तक उन्हें काम से वंचित रखा जाएगा। मामले में शामिल नहीं होने के बावजूद कुंडवा चैनपुर थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार पर अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी। उनसे स्पष्टीकरण की मांग भी की गई है।

खबरें और भी हैं...