शराब मामले में लापरवाही बरतने पर थानेदार और चौकीदार​​​​​​​ निलंबित:मोतिहारी में मद्य निषेध टीम ने मारा था छापा, स्पष्टीकरण नहीं देने पर लिया गया फैसला

मोतिहारी15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
थानाध्यक्ष रवि रंजन कुमार और चौकीदार जितेंद्र कुमार सहनी। - Dainik Bhaskar
थानाध्यक्ष रवि रंजन कुमार और चौकीदार जितेंद्र कुमार सहनी।

मोतिहारी शराब तस्करी मामले में लापरवाही बरतने वाले थानेदार और चौकीदार पर कार्रवाई शुरू हो गई है। मद्य निषेध विभाग के रिपोर्ट के बाद एसपी ने ये कार्रवाई की है।

दरअसल, मद्य निषेध विभाग द्वारा 6 जनवरी को पत्र के माध्यम से सूचित किया गया कि दिसंबर 2021 को मद्य निषेध बिहार पटना को शराब कारोबारी की प्राप्त सूचना के आलोक में बंजरिया थाना अंतर्गत थाना क्षेत्र के झखिया बाजार एनएच 28 किनारे अवस्थित होटल, दुकान और घरों में शराब को लेकर छापेमारी और सत्यापन मद्य निषेध टीम से छापेमारी कराई गई।

इस दौरान शराब के साथ चार तस्करों को गिरफ्तार किया गया। इस संबंध में 14 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाते हुए बंजरिया थाना में प्राथमिकी भी दर्ज की गई। इसके बावजूद अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई।

बता दें कि बंजरिया थाना से महज 5 किलोमीटर दूरी पर एनएच 28 किनारे, जो बेतिया रक्सौल मुख्य पथ है। वहां मौजूद दुकान व होटल में बैठा कर खुलेआम दारू बेचना और बैठा कर पिलाने का खेल होता है। लेकिन इनके द्वारा कोई कार्रवाई अब तक नहीं की गई। इसी के विरुद्ध मद्य निषेध अधिनियम के तहत बंजरिया थानाध्यक्ष रवि रंजन कुमार और झखिया के चौकीदार जितेंद्र कुमार सहनी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया है।

खबरें और भी हैं...