ग्रामीण क्षेत्रों में भी क्वारेंटाइन सेंटर की स्थापना की गई / 1845 प्रवासियों की स्क्रीनिंग के बाद 12 क्वारेंटाइन सेंटर्स पर किया शिफ्ट

प्रवासियों का स्क्रीनिंग करते चिकित्सक। प्रवासियों का स्क्रीनिंग करते चिकित्सक।
X
प्रवासियों का स्क्रीनिंग करते चिकित्सक।प्रवासियों का स्क्रीनिंग करते चिकित्सक।

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

मोतिहारी. प्रखंड स्तरीय सात क्वारेंटाइन सेंटर फुल हो जाने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में भी क्वारेंटाइन सेंटर की स्थापना की गई है। बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों के आने के कारण नए बारह क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। शनिवार के दोपहर तीन बजे तक विभिन्न राज्यों से आने वाले बारह क्वारेंटाइन सेंटर में 1845 प्रवासी मजदूरों को रखा गया। जिनमें नगर के राजकीय मध्य विद्यालय सुगौली बालक में स्थापित क्वारेंटाइन सेंटर में 65, पं.दीनदयाल बालिका उच्च विद्यालय में 132, नंद उच्च विद्यालय में 213, एसपी नायक महाविद्यालय में 147, कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में 204, मध्य विद्यालय चील-झपटी में 147, अंबेडकर आवासीय विद्यालय सुगांव में 552, उ.उच्च विद्यालय कैथवलिया में 135, उ.मध्य विद्यालय लमौनिया में 99, उ. मध्य विद्यालय करूअईनी में 42, उ.मध्य विद्यालय भटवलिया हिन्दी में 49 और मध्य विद्यालय भटवलिया उर्दू में 60 प्रवासी मजदूरों की संख्या हो गई है। बाहर से आए प्रवासी मजदूरों का पीएचसी के चिकित्सकों ने जांच की डा. विनय शंकर सिंह एवं डा. प्रवीण कुमार के नेतृत्व में बड़ी संख्या में प्रवासियों की स्क्रीनिंग की गई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना