श्रमदान:पीपल के पेड़ को बचाने के लिए किया श्रमदान

मोतिहारी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पेड़ की जड़ पर मिट्टी डालते बीडीओ व डॉक्टर। - Dainik Bhaskar
पेड़ की जड़ पर मिट्टी डालते बीडीओ व डॉक्टर।
  • पुराने पेड़ बचाओ अभियान के तहत आयोजन

पुराने पेड़ बचाओ अभियान के तहत बीडीओ दृष्टि पाठक, पीएचसी प्रभारी डॉ नीरज कुमार, मनरेगा पीओ मनीष कुमार श्रीवास्तव सहित ग्रामीणों ने उत्तरी बरियरिया पंचायत के वार्ड सात स्थित 150 वर्ष पुराने पीपल के पेड़ की जड़ में श्रमदान करते हुए कुदाल से मिट्टी डाला।अधिकारियों को कुदाल से मिट्टी डालते देख पहुंचे ग्रामीण भी पूरे उत्साह से मिट्टी डालने लगे। बीडीओ ने ग्रामीणों से कहा कि पेड़ हमारी धरोहर होते हैं। जिस पर इस पुराने पेड़ की छाया में यहां के लोगों की कई पीढ़ियों का बचपन जवान हुआ है उसी तरह इसकी रक्षा इसलिए भी जरूरी है कि आनेवाली आगामी पीढियां भी इसका आनन्द ले सकें।पर्यावरण की सुरक्षा में पीपल का अद्भुत योगदान है।क्योंकि यह पेड़ हमेशा ऑक्सीजन देता रहता है।

समाजसेवी विश्वनाथ भगत,श्रवण कुमार स्वर्णकार,प्रवीण कुमार,रविरंजन शर्मा,पन्नालाल भगत,नंदलाल भगत,शम्भू पटेल,आत्माध्यक्ष धीरज मिश्रा,श्रीनिवास सिंह,पीआरएस राजीव रंजन,पीटीए महेश चौधरी सहित कई लोगों ने श्रमदान के अलावा अर्थदान भी दिया।बीडीओ श्रीपाठक की अध्यक्षता में पेड़ के लिए चबूतरा निर्माण कमिटी भी बना दी गई ताकि नवरात्र पूजा के पूर्व ही निर्माण कार्य पूर्ण हो सके।इस कार्य मे महिलाएं भी बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं।ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार 150 वर्ष पूर्व स्व महेश तिवारी के पूर्वज जो बेतिया राज में पंडित हुआ करते थे,उन्ही के द्वारा यह पेड़ अपनी जमीन में लगाकर देवस्थल के लिए दान कर दिया गया था।स्थानीय लोग हमेशा इस पेड़ की देखभाल करते रहे हैं।सेवा निवृत्त शिक्षक विश्वनाथ भगत के द्वारा इसमें यदा कदा मिट्टी भरवाया जाता रहा है।

खबरें और भी हैं...