पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

शुभारंभ:वर्तमान तकनीकी युग में हिंदी को विज्ञान और रोजगार से जोड़ने की जरूरत : प्राचार्य

मोतिहारी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एमएस कॉलेज के स्मार्ट क्लास रूम में ‘हिंदी दिवस सप्ताह’ का हुआ शुभारंभ

शहर के एमएस कॉलेज के स्मार्ट क्लास रूम में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में ‘हिंदी दिवस सप्ताह’ की शुरुआत की गयी। कॉलेज के हिंदी, संस्कृत, अंग्रेजी और उर्दू विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित यह कार्यक्रम 20 सितंबर तक चलेगा।‘भाषा की संस्कृति और रोजगार की भाषा हिन्दी’ विषय पर आयोजित कार्यक्रम के प्रथम दिन विषय प्रवर्तन करते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य और दलित साहित्य के विद्वान प्रो. (डॉ.) हरिनारायण ठाकुर ने कहा कि आज के ही दिन वर्ष 1949 में संविधान सभा में हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया।

लेकिन, भाषा सिर्फ भाषा नहीं होती, उसकी अपनी संस्कृति भी होती है। भारत के सांस्कृतिक निर्माण में यद्यपि यहां की सभी भाषाओं का योगदान है। परन्तु, मुख्य रूप से संस्कृत और हिंदी भाषा ने ही भारतीय संस्कृति का निर्माण और विकास किया है। आज हिंदी हमारी बोलचाल, सोच-विचार, आचार-व्यवहार, शिक्षा, ज्ञान-विज्ञान, बाजार, रोजगार और सपनों की भाषा है। आज के तकनीकी युग में इसे विज्ञान और रोजगार से जोड़ने की जरूरत है।
हिंदी के विकास में संतों का बहुमूल्य योगदान : प्रो अरुण : हिंदी विभागाध्यक्ष प्रो. अरुण कुमार ने कहा कि हिंदी के सम्यक विकास में संतों और श्रमिकों का बहुमूल्य योगदान रहा है। संत कबीर, संत रविदास, सदना, रज्जब आदि ने हिंदी को गढ़ने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। हिंदी आज रोजगार की एक समर्थ भाषा के रूप में अपना कार्य कर रही है। विश्व बाजारवाद और ग्लोबल संस्कृति के दौर में हिंदी के महत्व का अपेक्षित विस्तार हुआ है। भारतीय हिंदी सिनेमा और भारतीय महान सेना ने इसे अंतरराष्ट्रीय धरातल पर प्रतिष्ठा दिलाई है।

स्वतंत्रता संग्राम की भाषा रही है हिंदी : डॉ. मृगेंद्र
डॉ. मृगेंद्र कुमार ने कहा कि हिंदी स्वतंत्रता संग्राम की भाषा रही है और अब तक इसको राष्ट्रभाषा का दर्जा न दिया जाना चिंता की बात है। अंग्रेजी विभागाध्यक्ष डॉ. इकबाल हुसैन ने कहा कि हिंदी और उर्दू दोनों सगी बहनें हैं। दोनों मिलकर हिंदुस्तानी भाषा का निर्माण करती हैं। इसी हिंदुस्तानी भाषा की राह पर चलकर प्रेमचंद और दुष्यंत कुमार जन-जन में लोकप्रिय हो सके थे। वाणिज्य विभाग के डॉ. सलाउद्दीन ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं की भी सराहनीय उपस्थिति रही। संस्कृत विभागाध्यक्ष डॉ. मनीष झा के धन्यवाद ज्ञापन से कार्यक्रम का समापन हुआ।

हिंदी दिवस के अवसर पर बच्चों के बीच प्रतियोगिता का आयोजन

हरू युवा केंद्र की स्थानीय ईकाई ने मंगलवार को हिन्दी दिवस का आयोजन किया। जिला युवा समन्वयक सुरुचि सिंह ने हिंदी पखवारा की शुरूआत की। जो 14-28 सितंबर तक चलेगा। राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवक सचिता कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय एकता के सूत्रधार और हम सभी की पहचान हिंदी है। उन्होंने बताया कि देश में सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा हिंदी है। इस दौरान बच्चों ने हिंदी में निबंध, पेंटिंग, अंतराक्षरी प्रतियोगिता की। इस प्रतियोगिता में रूबी, मोनी, रूपाली, निशा, करन, कुणाल, गोलू, अमन, काजल कुमारी, सोनी कुमारी, उर्मिला कुमारी शामिल हुए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप भावनात्मक रूप से सशक्त रहेंगे। ज्ञानवर्धक तथा रोचक कार्यों में समय व्यतीत होगा। परिवार के साथ धार्मिक स्थल पर जाने का भी प्रोग्राम बनेगा। आप अपने व्यक्तित्व में सकारात्मक रूप से परिवर्तन भ...

और पढ़ें