पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

परेशानी:बंदराें से त्रस्त भवानीपुर बाजार के लोगों की बात जब विभाग के अधिकारियों ने नहीं सुनी, तो खुद ग्रामीण पकड़ने लगे बंदर

मोतिहारीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक साल से एक दर्जन बंदराें ने मचा रखा है आतंक, काबू में करने के लिए चंदा वसूल कर बनवाया पिंजरा

संग्रामपुर संग्रामपुर प्रखंड के भवानीपुर बाजार में विगत एक साल से एक दर्जन बंदराें ने आतंक मचा रखा है। उनके आतंक से त्रस्त होकर बाजार वासियों ने दर्जनों बार वन विभाग के स्थानीय व जिला के वरीय अधिकारियों को इसकी सूचना दी। लेकिन जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो सभी ने आपसी सहयोग से चंदा इकट्ठा करके एक लोहे का बड़ा सा पिंजरा खुद बनवाया और बंदरों को पकड़ने का बीड़ा उठाया। इसकी शुरुआत गुरुवार से एक बड़े बन्दर को पकड़ने से हुई।

बाजार वासियों ने संयुक्त रूप से बंदरों को पकड़ने के लिए अपने तकनीक से पिंजरे की सहायता से बन्दर को पकड़ा और उसे दूसरे जगह छोड़ने की पहल शुरू कर दिया। जानकारी देते हुए ग्रामीण आशीष जायसवाल, धीरेंद्र जायसवाल, अमित कुमार आदि ने बताया कि दो वर्ष पूर्व में बाजार में एक नर और एक मादा बन्दर आए। धीरे-धीरे इनकी संख्या दो साल में एक दर्जन से अधिक हो गई। इनके द्वारा पांच दर्जन से अधिक बच्चे, बुजुर्ग व अन्य ग्रामीणों को काट लिया गया है। कभी भी दुकान, घर या छत पर रखे जरूरी सामग्रियों को बर्बाद कर देना इनकी रोज की दिनचर्या बन गई है। बंदरों के भय से लोग बाग बाजार आने से परहेज करते हैं।

... और कोई लाभ नहीं हुआ
लोगों ने बताया कि स्थानीय प्रशासन से लेकर जिला के वन विभाग के वरीय अधिकारियों को भी अवगत कराया गया, लेकिन कोई लाभ नहीं हुआ। बीच मे एकबार बन्दर पकड़ने वाली टीम आई। लेकिन बन्दर इतने होशियार हैं कि इनकी पकड़ से दूर रहे। थकहार टीम बैरंग वापस हो गई। अंत मे ग्रामीण सहयोग से ही बंदरों को पकड़ने की मुहिम शुरू की गई है। इन बंदरों में सबसे अधिक और इनके परिवार के मुखिया बन्दर को पहले दिन ही पकड़ लिए जाने के बाद लोगों में यह आशा जगी है कि अब उन्हें बंदरों के आतंक से मुक्ति मिल जाएगी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें