वट सावित्री की हुई पूजा / सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर की वट सावित्री की पूजा

X

  • रक्सौल में अधिकतर महिलाओं ने घर में की पूजा

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

मोतिहारी. शुक्रवार को प्रखंड के विभिन्न जगहों के मन्दिरों के सामने स्थित वट वृक्ष के नीचे सुहागिन महिलाएं जुट कर विधि-विधान के साथ वट सावित्री का पूजन किया। वार्ड नम्बर 9 के छठिया घाट मंदिर के सामने स्थित वट वृक्ष के समक्ष दर्जनों महिलाएं सोशल डिस्टेंसिंग का पाल करते हुए कोरोना काल के इस वैश्विक महामारी में महिलाएं पति की दीर्घायु और सेहत-नेमत की कामना को लेकर वट सावित्री का पूजन किया। नागा रोड, बैक रोड, ब्लॉग रोड, मौजे सहित अन्य मुहल्लों की महिलाएं कोरोना काल के कारण अपने घरों में महिलाओं ने वट सावित्री का पूजा-अर्चना की। महदेवा शिव मंदिर के पुजारी पंडित नयन मिश्रा ऊर्फ मन्टू मिश्र ने कहा कि हिन्दू धर्म में महिलाएं अपने पति की लम्बी आयु के लिए कई व्रत रखती हैं। परन्तु हिन्दू पंचांग के अनुसार, ज्येष्ठ महीने की अमावस्या के दिन वट सावित्री पूजन सुहागिन महिलाएं के लिए इस वर्त बड़ा महत्व  है। आज का दिन सुहगिनों के लिये विशेष दिन है। इसलिए महिलाओं के लिए ये व्रत बेहद ही फलदायी माना जाता है। इस दिन सुहागन महिलाएं पूरा शृंगार कर बरगद के पेड़ की पूजा करती हैं। हिन्दू ग्रन्थों के अनुसार वट वृक्ष की जड़ में भगवान ब्रह्मा, तने में भगवान विष्णु व डालियों, पत्तियों में भगवान शिव का निवास स्थान माना जाता है। पति की लम्बी उम्र के लिये निर्जला व्रत रख कर पूजा करती हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना