पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अपील:देश की प्रभुता, एकता और अखंडता की रक्षा करना हम सब की जिम्मेदारी, अधिकार के साथ कर्तव्य का भी पालन करें

नरकटियागंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संविधान में सभी नागरिक एक समान हैं, सभी के अधिकार बराबर हैं, सबको एक ही मत देने का अधिकार है : एसीजेएम

नेहरू युवा केन्द्र ने नगर के हाई स्कूल मैदान में छात्र एवं युवाओं को संविधान दिवस के अवसर पर अखंडता की शपथ ली। इस अवसर पर नरकटियागंज प्रखंड के राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक रौशन कुमार ने कहा कि मूल कर्तव्यों को पालन करना सबकी जिम्मेवारी है। उन्होंने कहा कि संविधान का पालन करें व आदर्शों, संस्थाओं, राष्ट्र ध्वज तथा राष्ट्रगान का आदर करें। देश की प्रभुता, एकता और अखंडता की रक्षा करना हम सब की जिम्मेदारी है। वहीं छात्र , छात्राओं एवं युवाओं को शपथ दिलवाते हुए टीपी वर्मा कॉलेज के खेलकूद प्रशिक्षक सुनील वर्मा ने कहा कि डॉ. आंबेडकर ने भारतीय संविधान का तैयार मसौदा 26 नवंबर 1949 को संविधान सभा के समक्ष रखा था। जिसको लेकर इसी दिन संविधान दिवस मनाया जाता है। युवाओं को संविधान की रक्षा करनी चाहिये तथा संविधान द्वारा जो हमें शक्तियां दी गयी है। उनका उपयोग करना चाहिये। संविधान की शपथ लेने वाले में आशीष ठाकुर, कृष्णा मुरारी, अवधेश पाल, कृष्णा मुरारी, नरेश पाल, अतुल पांडे, बिट्टू कुमार, धर्मेश गुप्ता, मिंकू श्रीवास्तव, आकाश कुमार, नेहा कुमारी आदि ने शपथ लिया। बगहा | अधिकार पाने लिए अपने कर्तव्यों को भी याद रखना होगा। संविधान में सभी नागरिक एक समान हैं। सभी के अधिकार बराबर हैं। सभी को सिर्फ और सिर्फ एक ही मत देने का अधिकार है, चाहे वह पीएम हो या सीएम, जज हो डीएम। संविधान दिवस के अवसर पर बगहा व्यवहार न्यायालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान एसीजेएम अविनाश कुमार ने यह बात कही। वे न्यायिक अधिकारियों, कर्मियों व अधिवक्ताओं को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम के दौरान एसीजेएम प्रथम अविनाश कुमार, एडीजे द्वितीय कमला प्रसाद, एसीजेएम द्वितीय अमलेश कुमार सिंह, एसीजेएम तृतीय संदीप पटेल, प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी सोनू कुमार व प्रमोद कुमार शर्मा आदि ने अपने विचार रखे। इस अवसर पर आलोक कुमार, मनोज कुमार सिंह आदि उपस्थित रहे। इस अवसर पर उपस्थित लोगो के बीच संविधान की प्रस्तावना को पढ़कर उसे आत्मसात करने की प्रतिज्ञा ली गई। शहर के बेलबाग बंगाली कॉलोनी स्थित रामकृष्ण विवेकानंद विद्या मंदिर में गुरुवार को भारतीय संविधान दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया। विद्यालय के नौवीं व दसवीं कक्षा के छात्र-छात्राओं ने इस अवसर पर संविधान के अनुरूप आचरण का संकल्प लिया। विद्यालय के निदेशक डॉ मदन बनिक ने इस अवसर पर छात्रों को संविधान की बारीकियों से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि हमारा संविधान विश्व का एक बेहतरीन संविधान है। यह देश के प्रत्येक नागरिक को समानता का अधिकार देने के साथ कई अन्य प्रकार के अधिकारी देता है। उन्होंने कहा कि हमें संविधान प्रदत अधिकारों के साथ कर्तव्यों के प्रति भी जागरूक होने की जरूरत है। तभी हमारा विकास व तरक्की संभव है। प्रधानाध्यापिका पार्वती प्रमाणिक ने भारतीय संविधान की खूबियों का उल्लेख करते हुए उसके अनुसार चलने की अपील की। कार्यक्रम को शिक्षक नवीन सिंह, राजेश कुमार साह,शशि कुमार आदि ने भी संबोधित किया। मौके पर विकेश सिंह,चंचला सिंह, सागर कुमार, सुमन यादव, अभिषेक विशाल, चंद्रप्रकाश मिश्र, शशांकधर मिश्र आदि मौजूद थे।

संविधान दिवस पर हाई स्कूल मैदान में नेहरू युवा केंद्र के सदस्यों ने अखंडता की शपथ ली

मैनाटांड़ ब्लॉक में संविधान दिवस पर भी भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा रही सूनी

गुरुवार को जब एक तरफ पूरे देश में संविधान दिवस मनाया जा रहा था तो दूसरी तरफ प्रखंड कार्यालय स्थित बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर एक अदद फूल अर्पित करने वाला भी कोई नहीं था। यह नहीं है कि प्रखंड के अधिकारी गुरुवार के दिन प्रखंड कार्यालय में नहीं थे। बीडीओ, सीओ, बीएओ व बगल में थाना के अधिकारी सहित तमाम विभाग के अधिकारी और कर्मी प्रखंड कार्यालय में मौजूद रहे। जनप्रतिनिधियों का भी आना जाना लगा रहा। लेकिन किसी ने भी संविधान निर्माता बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की मूर्ति पर एक फूल अर्पित करने की जहमत नहीं उठाई। जो चर्चा का विषय बना रहा।

व्यवहार न्यायालय में अधिकारी-कर्मियों ने संविधान की प्रस्तावना का पाठ किया

नरकटियागंज| संविधान दिवस के अवसर पर स्थानीय व्यवहार न्यायालय प्रांगण में गुरुवार को एक सभा का आयोजन हुआ। इस दौरान अवर न्यायाधीश प्रथम अमित कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में अन्य अधिकारी व कर्मियों ने संविधान की प्रस्तावना का पाठ किया। सब जज अमित कुमार शुक्ला ने कहा कि भारतीय संविधान की प्रस्तावना में बुनियादी आदर्श, उद्देश्य एवं दार्शनिक भारत के संविधान की अवधारणा शामिल है। जो संवैधानिक प्रावधानों के लिए निष्पक्षता प्रदान करता है। वहीं अवर न्यायाधीश तृतीय मानस कुमार ने कहा कि यह उद्देशिका संविधान का सार माना जाता है व उसके लक्ष्य को प्रकट करती है। संजीव कुमार तिवारी, राजीव कुमार, अभय सरकार, निशांत कुमार, बृजभान कुमार, सरफराज नवाज, ओमप्रकाश, मो. फिरोज आदि उपस्थित थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser