पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जांच:दवा की कालाबाजारी की मॉनिटरिंग करेगा धावा दल

नरकटियागंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एंबुलेंस के लिए अधिक पैसे लेने की होगी जांच

कोरोनाकाल की उत्पन्न परिस्थिति में (दवाई) औषधियों की कालाबाजारी न हो व जीवन रक्षक दवाई आमलोगों को उचित मूल्य पर उपलब्ध हो सके, इसके लिए प्रशासनिक पहल शुरू कर दी गई है। दवाइयों की कालाबाजारी को रोकने के लिए जिलाधिकारी ने नरकटियागंज अनुमंडल के लिए एक धावा दल का गठन किया है। गठित 3 सदस्यीय धावा दल में डीसीएलआर अजय कुमार सिंह, ड्रग इंस्पेक्टर अविनाश पटेल व पुलिस अवर निरीक्षक रणविजय सिंह शामिल हैं। जिला प्रशासन द्वारा गठित धावा दल प्रतिदिन दवा के थोक एवं खुदरा दुकान व प्रतिष्ठानों पर औचक छापामारी करेगा।

ताकि कोविड-19 की चिकित्सा से संबंधित दवाओं की कालाबाजारी पर प्रतिबंध लगाया जा सके। एसडीएम साहिला ने बताया कि जिलाधिकारी के आदेश के आलोक में धावा दल द्वारा निजी अस्पतालों में लिए जा रहे दर व निजी एम्बुलेंसों द्वारा निर्धारित दर से अधिक राशि वसूले जाने का भी औचक जांच किया जाएगा। बता दें कि कोरोना वायरस का अधिक संक्रमण फैल रहा है। कोविड- 19 की चिकित्सा में प्रयुक्त होने वाले दवाइयों की मांग अधिक बढ़ गई है। इन दिनों सभी लोग इन दवाइयों के लिए डिमांड कर रहे हैं। जिससे इन दवाइयों के कालाबाजारी की संभावना बढ़ गई है। दवाइयों की कालाबाजारी को रोकने के लिए प्रशासन पहले से सजग हो गया है और धावा दल का गठन किया गया है। आपदा के इस घड़ी में लोगों को शोषित न होना पड़े, इसके लिए प्रशासन समय समय पर आवश्यक कदम उठा रहा है।

खबरें और भी हैं...