पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आवेदन मांगे गए:यूजी स्तर के 6 विषयों के तैयार होंगे 171 मूक्स कोर्स, आवेदन मांगे गए

मुजफ्फरपुरएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लॉकडाउन में ऑनलाइन पढ़ाई को बेहतर करने के लिए यूजीसी ने उठाया कदम
Advertisement
Advertisement

यूजी स्तर के छात्र-छात्राओं को लॉकडाउन में गुणवत्तापूर्ण पाठ्य सामग्री उपलब्ध करान के लिए अब 6 विषयों में 171 मूक्स कोर्स के लिए मॉडल्स तैयार किए जाएंगे। इसके लिए विवि अनुदान आयोग ने विभिन्न विषयों के एक्सपर्ट से आवेदन मांगे हैं। इस कड़ी में यूजी स्तर का पाठ्यक्रम तैयार किया जाएगा, जो सीबीसीएस यानी चाॅइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम पर आधारित होगा। मानविकी से लेकर सोशल साइंस संकाय के विषयों का स्वयं प्लेटफॉर्म के लिए पाठ्य सामग्री का मॉडल तैयार करना है। इसमें इतिहास, राजनीति विज्ञान, कॉमर्स, समाजशास्त्र, पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन और एंथ्रोपोलॉजी जैसे विषय शामिल हैं। यूजीसी ने कहा, अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार ही इन विषयों में मॉडल पाठ्यक्रम तैयार किए जाएं।

इसे लेकर आयोग की ओर से सभी विवि के कुलपति को निर्देश दिया गया है। कहा गया है कि स्वयं प्लेटफॉर्म पर यूजी से लेकर अन्य स्तरों के छात्र-छात्राओं के लिए स्टडी मैटेरियल उपलब्ध है। पहले से ही एक एक्सपर्ट कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी अब तक तैयार पाठ्यक्रमों का अध्ययन कर रही है। मूक कोर्स तैयार करने के लिए आवेदक को कम से कम 5 वर्ष का शैक्षणिक अनुभव संबंधित संकाय में होना चाहिए। वहीं, पीएचडी योग्यता के साथ मान्यता प्राप्त विवि या कॉलेज का संकाय सदस्य होना अनिवार्य है। वहीं, इसके लिए संबंधित विवि या विभागाध्यक्ष से सहमति पत्र मिलना भी जरूरी होगा।

एलओसीएफ के तहत एक्सपर्ट 4 अगस्त तक देंगे सुझाव
लर्निंग आउटकम्स बेस्ड करिकुलम फ्रेमवर्क यानी एलओसीएफ के तहत यूजीसी ने तैयार किए गए मसौदे पर एक्सपर्ट के सुझाव 14 अगस्त तक मांगे हैं। इसके लिए पॉलिटिकल साइंस पाठ्यक्रम का मसौदा तैयार कर इसे आयोग के वेबसाइट पर उपलब्ध कराया गया है। इसपर छात्र, शिक्षक, शोधार्थी और विशेषज्ञों के राय के बाद उसे अंतिम रूप दिया जाएगा। यूजीसी ने छात्रों के ज्ञान, कौशल और मूल्यों और दृष्टिकोण से युक्त बनाने के लिए एलओसीएफ पाठ्यक्रम पर बल दिया है।

इग्नू के कोर्सों में छात्र-छात्रा 16 तक करा सकेंगे नामांकन

इग्नू के कोर्सेज में जुलाई 2020 से शुरू नए सत्र में नामांकन की तिथि बढ़ा दी गई है। छात्र-छात्राएं अब 16 अगस्त तक नामांकन करा पाएंगे। आमगोला पड़ाव पोखर स्थित इग्नू कार्यक्रम अध्ययन केंद्र के निदेशक डॉ. मनीष कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण के कारण तिथि बढ़ाई गई है। इसका कारण है कि वैसे छात्र-छात्रा जो नियमित कक्षा से वंचित रह जाएंगे, वे भी अंतरराष्ट्रीय गुणवत्ता स्तर के इग्नू के पाठ्यक्रमों में नामांकन ले सकते हैं। प्रोग्राम इंचार्ज डॉ. निधि नागेंद्र ने बताया कि इसे लेकर दुबारा रजिस्ट्रेशन की तिथि भी 16 अगस्त तक विस्तारित की गई है। नामांकन से लेकर दुबारा पंजीकरण दोनों के विकल्प छात्र-छात्राओं के लिए खुले होंगे।

एससी-एसटी वर्ग के स्टूडेंट्स के लिए कई पाठ्यक्रम निः शुल्क
अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति वर्ग के सभी विद्यार्थियों के लिए निजी सहायक या आधुनिक कार्यालय प्रबंधन से संबंधित डिप्लोमा इन मॉडर्न ऑफिस प्रैक्टिस (डीएमओपी) एक वर्षीय और एथिकल हैकिंग पर आधारित पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन इंफॉर्मेशन सिक्योरिटी (पीजीडीआईएस) पाठ्यक्रमों को नि:शुल्क कर दिया गया है। अनुसूचित जाति-जनजाति के इंटर या ग्रेजुएशन किसी भी विषय से पास छात्र-छात्रा ऑनलाइन माध्यम से नि:शुल्क नामांकन ले सकते हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज रिश्तेदारों या पड़ोसियों के साथ किसी गंभीर विषय पर चर्चा होगी। आपके द्वारा रखा गया मजबूत पक्ष आपके मान-सम्मान में वृद्धि करेगा। कहीं फंसा हुआ पैसा भी आज मिलने की संभावना है। इसलिए उसे वसूल...

और पढ़ें

Advertisement