पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना टीका:राज्य के 1.83 लाख फ्रंटलाइन व हेल्थ वर्कराें ने नहीं लिया टीके का दूसरा डाेज

मुजफ्फरपुर16 दिन पहलेलेखक: धनंजय मिश्र
  • कॉपी लिंक

मुजफ्फरपुर समेत बिहार के सभी जिलों में फ्रंटलाइन और हेल्थ वर्कर्स काेराेना टीके का दूसरा डाेज नहीं ले रहे हैं। पहला डाेज लेने के करीब 6 माह बाद भी 1,83,591 फ्रंटलाइन व हेल्थ वर्कराें का दूसरा डाेज ड्यू है। इनमें 1,12,423 हेल्थ वर्कर्स और 71168 फ्रंटलाइनर शामिल हैं। सिर्फ मुजफ्फरपुर जिले में अभी 5119 फ्रंटलाइन व 3146 हेल्थ वर्कर्स का काेराेना वैक्सीन का दूूसरा डाेज ड्यू है। जबकि, आईसीएमआर की गाइडलाइन के अनुसार टीके के दाेनाें डाेज में बहुत ज्यादा अंतर हाेने पर टीके का असर भी अपेक्षाकृत कम हाे सकता है। एेसे में यदि इस सप्ताह इनलाेगाें ने दूसरा डाेज नहीं लिया ताे स्वास्थ्य विभाग ढूंढ़-ढूंढ़ कर इन्हें वैक्सीन लगवाएगा।

निदेशक ने सीएस को एक सप्ताह में दिलवाने को कहा
राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने इसे लेकर सभी डीएम व सीएस को पत्र लिखा है। उन्हाेंने कहा है कि काेराेना वैक्सीनेशन 16 जनवरी 2021 से शुरू हुअा था। सबसे पहले हेल्थ वर्कराें को टीका लगाया गया। 6 फरवरी 2021 से फ्रंटलाइन वर्करों को टीका लगाया जाने लगा। इन लाेगाें काे टीका लगे करीब 6 माह हाे गए। राज्य में कुल 2,75,359 फ्रंटलाइन व 4,92,232 हेल्थ वर्कराें के नाम कोविन पोर्टल पर अपलोड हैं। इनमें अब तक 1 लाख 83 हजार 591 फ्रंटलाइन व हेल्थ वर्कराें ने दूसरा डोज नहीं लिया है। इस प्रकार पोर्टल पर अपलोड डाटा के अनुपात में अब तक 25.8% फ्रंटलाइन व 22.8% हेल्थ वर्कर दूसरे डोज से वंचित हैं। निदेशक ने पत्र में यह भी लिखा है कि इतनी बड़ी संख्या में फ्रंटलाइन व हेल्थ वर्कर का दूसरा डोज नहीं लेना आईसीएमआर की गाइडलाइन के विरुद्ध है।

दूसरा डोज बूस्टर डोज कहलोाता है। जो लोग आईसीएमआर द्वारा निर्धारित अवधि के बाद भी दूसरा डोज नहीं लगवाए हैं, उन्हें शीघ्र लगवा लेना चाहिए। 84 दिनों के बाद दूसरा डोज लेने का प्रावधान है, लेकिन कब तक यह नहीं बताया गया है। टीके की कमी के कारण जिले में अब भी फ्रंटलाइन और हेल्थ वर्कर दूसरा डोज लेने से वंचित हैं। सभी पीएचसी प्रभारियों को निर्देशित किया गया है कि छूटे हुए सभी लोगों को दूसरा डोज दिलवा कर रिपोर्ट करें। -डॉ. विनय शर्मा, सीएस, मुजफ्फरपुर

खबरें और भी हैं...