मुजफ्फरपुर में ताजिया जुलूस के दौरान दो पक्षों में पत्थरबाजी:पुलिस फोर्स ने पहुंचकर करवाया मामला शांत, DSP बोले-परंपरा के तहत कर रहे थे रोड़ेबाजी

मुजफ्फरपुर4 महीने पहले
रोड़ेबाजी करते युवक

मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना के दोनवा में ताजिया जुलूस के दौरान दो पक्षों में जमकर पत्थरबाजी हुई। इसमें करीब आधा दर्जन लोग चोटिल हो गए। अफरातफरी और भगदड़ का माहौल मच गया। सूचना मिलने पर सकरा थानेदार सह प्रशिक्षु DSP अबु सैफी मुर्तुजा, इंस्पेक्टर राकेश कुमार, सब इंस्पेक्टर सरोज कुमार काफी संख्या में फोर्स के साथ पहुंचे।

रोड़ेबाजी कर रहे लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने को कहा। कुछ स्थानीय बुद्धिजीवी ने भी मामले में हस्तक्षेप किया। जिससे जल्द ही मामला शांत हो गया।

DSP ने घटना के सम्बंध में स्थानीय लोगों से पूछताछ की। तब पता लगा कि ये एक परंपरा है, जो सदियों से चली आ रही है। कदाने नदी के दोनों तरफ से ताजिया जुलूस के दौईं लोग रोड़ेबाजी करते हैं। घटना में किसी प्रकार की विशेष हताहत नहीं हुई है। DSP ने बताया कि एक परंपरा के तहत रोड़ेबाजी कर रहे थे। जिसे रोकवा दिया गया है। स्थिति शांतिपूर्ण है। किसी प्रकार का विवाद नहीं है।

खबरें और भी हैं...