पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तोड़फोड़ और आगजनी:निजी नर्सिंग होम में ऑपरेशन के दौरान प्रसूता की मौत पर भड़का परिजनों का गुस्सा, तोड़फोड़

मुराैल8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रसूता की मौत के बाद निजी नर्सिंग होम में तोड़फोड़ के बाद का नजारा। - Dainik Bhaskar
प्रसूता की मौत के बाद निजी नर्सिंग होम में तोड़फोड़ के बाद का नजारा।
  • भाग निकले प्रबंधक व सभी स्टाफ: मुजफ्फरपुर-पूसा मार्ग 3 घंटे तक जाम, आगजनी

मुजफ्फरपुर-पूसा रोड स्थित जगांहीपुर चौक पर एक निजी नर्सिंग होम में प्रसव के दौरान महिला की मौत पर उग्र भीड़ ने नर्सिंग होम में तोड़फोड़ की और शव रख 3 घंटे तक मुजफ्फरपुर-पूसा मुख्य मार्ग जाम कर दिया। बताया गया कि सोमवार की रात 22 वर्षीय पिंकी कुमारी को प्रसव पीड़ा होने पर पति अनिल राय ने नर्सिंग होम में भर्ती कराया।

स्थिति बिगड़ने पर नर्सिंग होम के डॉक्टर ने पिंकी का ऑपरेशन कर दिया, जिससे नवजात का जन्म हुआ, तभी पिंकी की मौत हो गई। घटना के बाद नर्सिंग होम के स्टाॅफ व प्रबंधक फरार हाे गए। मंगलवार की सुबह मृत पिंकी के ससुराल (इटहा मालपुर) व मायके सादिकपुर मुरौल के सैकड़ों लोग नर्सिंग होम पर पहुंच गए।

फर्नीचर, कंप्यूटर, जेनरेटर आदि ताेड़ दिए और आगजनी की। मुआवजे के लिए जगांहीपुर चौक पर शव रखकर सुबह 6 बजे से 9 बजे तक मुजफ्फरपुर-पूसा मुख्य मार्ग को अवरुद्ध कर दिया। उग्र भीड़ ने मार्ग पर सरकारी एम्बुलेंस को भी जाने नहीं दिया।

बाद में स्थानीय मुखिया ने दाेनाें पक्षाें से बात कर नर्सिंग होम प्रबंधन की ओर से 2.50 लाख मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। इसके बाद आक्राेशित शांत हुए। थानाध्यक्ष रामनाथ प्रसाद ने मामले से अनभिज्ञता जताई। कहा कि इस तरह की शिकायत अभी नहीं मिली है।

खबरें और भी हैं...