पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Asked Where Did You Get Inspiration From, Auntie Said Tired Of Poverty, Grown Vegetables, Brought Myself To The Shops And The Caravan Kept Growing.

किसान चाची के घर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष:पूछा- आपको कहां से प्रेरणा मिली, चाची बोलीं- गरीबी से तंग आकर सब्जी उगाई, खुद दुकानों में पहुंचाई और कारवां बढ़ता चला गया

मुजफ्फरपुर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सरैया में किसान चाची राजकुमारी देवी के घर जाकर बात करते नड्‌डा।
  • बोले-आपने गरीब महिलाओं में जाे ऊर्जा भरी, वह काबिले तारीफ

आपका नाम सुना था, आपने गरीब और लाचार महिलाओं को जाे ऊर्जा दी है वह काबिले तारीफ है। भाजपा आपके हर सुख-दुख की साथी है। ये बातें पद्मश्री राजकुमारी देवी उर्फ किसान चाची के घर सरैया के आनंदपुर पहुंचे नड्‌डा ने उनसे बात करते हुए कहीं। नड्‌डा ने पूछा कि आपको यह प्रेरणा कहां से मिली? किसान चाची ने कहा कि जब मैं शादी के बाद घर आई थी, तब परिवार गरीबी से जूझ रहा था।

उस समय घर की महिलाएं बाहर नहीं निकलती थी, परंतु मैंने इस परंपरा काे तोड़ दिया। घर से बाहर निकल कर खेताें में सब्जी का उत्पादन शुरू किया। सब्जियाें काे साइकिल पर लाद कर दुकान और बाजार में पहुंचाने लगी। बाद में कृषि विज्ञान केंद्र, सरैया से फूड प्रोसेसिंग के तहत अचार व मुरब्बा बनाने की ट्रेनिंग ली और स्थानीय बाजार में बेचना शुरू किया। धीरे-धीरे सरकारी हाट में बेचने लगी। अचार व मुरब्बा की डिमांड बढ़ी तो उत्पाद का अच्छा दाम मिलने लगा।

धीरे-धीरे स्वयं सहायता समूह बना गांव की महिलाओं को जाेड़ा। उत्पाद की शहर में डिमांड हाेने लगी। इसके बाद सरैया व मुजफ्फरपुर जिले के करीब 60 स्वयं सहायता समूह से सैकड़ों महिलाओं को जोड़ कर काम काे आगे बढ़ाया। इससे जहां महिलाओं काे राेजगार मिला, वहीं पूरे देश में दैनिक पद्धति से बने अचार व मुरब्बे की डिमांड हाेने लगी।

मौके पर मौजूद भाजपा नेताओं ने कहा कि जितना आपके बारे में सुना था उससे आप कहीं अधिक निकलीं। इससे पहले किसान चाची व उनके परिजनों ने नड्‌डा, उप मुख्यमंत्री मोदी, प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल का फूल-माला व शॉल से स्वागत किया।

मखाना की खेती बदल सकती है सूबे की सूरत
दरभंगा में मखाना अनुसंधान केंद्र में मखाना एवं मत्स्य कृषकों के साथ आयोजित संवाद में नड्‌डा ने कहा कि देश के 90% मखाना का उत्पादन बिहार में होता है। कुल उत्पादन का 80% मिथिलांचल में ही होता है। पूरे देश में मखाना का 600 करोड़ का व्यापार है। मखाना की खेती बिहार की तस्वीर बदलने की ताकत रखती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें