मुजफ्फरपुर में देशी शराब बरामद करने गयी पुलिस पर हमला:उपद्रवियों ने पुलिस की गाड़ी पर किया पथराव, दो जवान घायल; लाठीचार्ज कर खदेड़ा

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गाड़ी का टूटा शीशा - Dainik Bhaskar
पुलिस गाड़ी का टूटा शीशा

मुजफ्फरपुर जिले के बेला थाना क्षेत्र के पाशी चौक के समीप ताड़ी और देशी शराब के ठिकानों पर रेड करने गयी पुलिस पर हमला कर दिया। धंधेबाजों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। सरकारी वाहन में भी तोड़फोड़ कर क्षतिग्रस्त कर दिया। अचानक हुए हमले में करीब आधा दर्जन जवान जख्मी हो गए। पुलिस को पीछे हटना पड़ा। दाे होम गार्ड के जवान काे काफी चोट लगी है।

इस दौरान उपद्रवियों ने जवान का हथियार भी छीनने का प्रयास किया। लेकिन वे सफल नहीं हाे पाये। कुछ देर बाद कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद लाठीचार्ज कर भीड़ और उपद्रवियों को खदेड़ा गया।बेला पुलिस काे गुप्त सूचना मिली थी कि पाशी चौक के समीप एक व्यक्ति अपने घर पर देशी चूलाई शराब बना कर बेच रहा है। बेला थानेदार कुंदन कुमार के नेतृत्व में टीम छापेमारी करने गई।

तीन उपद्रवियों को किया गिरफ्तार

पुलिस के गाड़ी काे देखते ही सैंकड़ो महिला-पुरुष जुट गए। पुलिस कार्रवाई का विरोध करते हुए हंगामा करने लगे। पुलिस ने जब चेतावनी दी तो अचानक से हमला कर दिया। हंगामा बढ़ता देख जब पुलिस पीछे हटी ताे भीड़ ने गाड़ी पर पथराव शुरू कर दिया। पथराव में पुलिस की बोलेरो गाड़ी का शीशा पुरी तरह से टूट गया। पुलिस ने मौके से तीन उपद्रवियों को गिरफ्तार किया है। अन्य की पहचान कर FIR दर्ज करने की कवायद कर रही है।

मुख्य आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे

बेला थानेदार कुंदन कुमार ने बताया कि पुलिस पर हमला करने के मुख्य आरोपी गरीब चाैधरी काे गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके साथ ही उसकी पत्नी किरण देवी व बेटा पंकज कुमार काे भी गिरफ्तार किया गया है। तीनाें से पूछताछ की जा रही है। उन्हाेंने बताया कि गरीब चौधरी के घर पर ही देशी शराब बिक्री की सूचना मिलने पर पुलिस रेड करने गयी थी। लेकिन, इन सब ने मिलकर पुलिस के साथ दुर्व्यहार करना शुरू कर दिया। थानेदार ने बताया कि पुलिस पर हमले में हाेमगार्ड के जावान श्रीनिवास कुमार व गणेश कुमार काे अधिक चोट लगी है। हॉस्पिटल में दोनों का इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं...