पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोविड-19 टीकाकरण अभियान:बाेले इस्लामिक धर्मगुरु- कोरोना का टीका लेना भी नेमत

मुजफ्फरपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डीएम के साथ बैठक के बाद कोरोना टीका लगवाते धर्मगुरु। - Dainik Bhaskar
डीएम के साथ बैठक के बाद कोरोना टीका लगवाते धर्मगुरु।
  • डीएम के साथ बैठक के बाद लगवाई काेराेना वैक्सीन

कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत शनिवार काे डीएम प्रणव कुमार ने जिले के इस्लामिक धर्म गुरुओं के साथ बैठक की। उन्हें टीकाकरण के फायदों और इसके सुरक्षित हाेने की जानकारी दी। डीएम ने सभी धर्मगुरु से अपने स्तर पर लाेगाें काे टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने काे कहा।

कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में उनसे सहयोग मांगा। भ्रांतियों को दूर कर टीके लगवा कोरोना को पूरी तरह परास्त करने की अपील की। कहा कि गांवों में 45 वर्ष एवं इससे अधिक आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सीन एक्सप्रेस से भेजी जा रही है। 18 एवं उससे अधिक आयु वर्ग के लोगों को भी टीके दिए जा रहे हैं । बैठक में मौजूद कंपनीबाग बड़ी मस्जिद के इमाम मौलाना आले हसन ने कहा कि टीका इंसानी जिंदगी के लिए लाजिम और जरूरी है। अपनी सेहत को बचाना और दूसरे की सेहत का भी ख्याल रखना अहम है।

इस वजह से आम-आवाम काे बिना शको-सुभाह में पड़े वैक्सीन लेनी चाहिए। कई धर्मगुरुओं ने कहा कि जिंदगी खुदा की दी हुई बेहतरीन नेमत है। कोरोना से बचने के लिए वैक्सीन लगवाना भी नेमत ही है। सभी धर्म गुरुओं ने कहा कि वे विश्वव्यापी महामारी से जिंदगी बचाने के लिए प्रशासन के साथ कदम से कदम मिला कार्य करने को तैयार हैं। बैठक में डीडीसी डॉ. सुनील कुमार झा, सहायक समाहर्ता श्रेष्ठ अनुपम, सीएस डॉ. एसके चौधरी, डीपीआरओ कमल सिंह, जिला अल्पसंख्यक अधिकारी मौलाना इकबाल अहमद, मौलाना सदरूल हसन, मौलाना सैयद काजिम शबीब, मौलाना शाह अलवीयल कादरी, मौलाना रिजवान साहब अाैर अन्य माैजूद थे। बैठक के बाद सभी धर्म गुरुओं ने टीका लगवाए।

खबरें और भी हैं...