28 पदाधिकारी 10 साल तक नहीं बनेंगे थानेदार:मद्य निषेध विभाग ने जारी की सूची, सबसे अधिक समस्तीपुर से 9 दारोगा

मुजफ्फरपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिहार के 28 पुलिस पदाधिकारियों को अगले 10 साल तक थानेदार की कुर्सी नहीं मिलेगी। मद्य निषेध विभाग ने यह कार्रवाई शराब मामले में लापरवाही बरतने पर की है। इस संबंध में मद्य निषेध विभाग के पुलिस अधीक्षक ने बिहार के सभी वरीय पुलिस अधीक्षक और पुलिस अधीक्षक को सूची दे दी है। विभाग की ओर से आदेश दिया गया है कि इन्हें अगले 10 साल तक थाना अध्यक्ष और ओपी अध्यक्ष की जवाबदेही नहीं दी जाए। इनमें सबसे ज्यादा 9 पुलिस पदाधिकारी समस्तीपुर जिला के शामिल हैं।

इधर, नगर थाना में पदस्थापित सब इंस्पेक्टर मनोज राम निराला होटल में शराब पीते पकड़े गए थे। निराला और मोतीपुर के तत्कालीन थानेदार कुमार अमिताभ को भी अगले 10 साल तक थानेदारी नहीं मिलेगी। वहीं, 28 पुलिस अधिकारियों में मुजफ्फरपुर जिले के दोनों पदाधिकारी भी शामिल हैं।

बता दें, 2016 में पुलिस हेड क्वार्टर ने यह आदेश जारी किया था कि शराब के मामले में जो पुलिस अधिकारी पकड़े जाएंगे, उन्हें 10 साल तक थानेदार की जवाबदेही नहीं मिलेगी।

इन पदाधिकारियों को अब नहीं मिलेगी कुर्सी ...

  • मुजफ्फरपुर जिला बल- इंस्पेक्टर कुमार अमिताभ व मनोज राम निराला
  • रेल थाना मुजफ्फरपुर-सब इंस्पेक्टर बैजनाथ सिंह, दारोगा अजय कुमार मिंज
  • समस्तीपुर जिला- सब इंस्पेक्टर रंजीत कुमार, शैलेंद्र कुमार विधाकर, शेखर प्रसाद, पंकज कुमार पंत, नीरज कुमार, संजीत कुमार, अजीत कुमार, बसंत राम, सुरेश प्रसाद यादव (सभी सब इंस्पेक्टर)
  • शिवहर जिला- सब इंस्पेक्टर सुजीत कुमार
  • दरभंगा जिला- सब इंस्पेक्टर सुरेश प्रसाद यादव, सुभाष चंद्र मंडल, सब इंस्पेक्टर अखिलेश कुमार राय, सब इंस्पेक्टर शंभू प्रसाद
  • मधुबनी जिला- इंस्पेक्टर अजय कुमार, सब इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार, सब इंस्पेक्टर नेसार अहमद
  • मोतिहारी जिला- सब इंस्पेक्टर अशोक कुमार 2
  • बेतिया जिला- सब इंस्पेक्टर कृष्णा प्रसाद
  • वैशाली जिला- सब इंस्पेक्टर संतोष कुमार पंकज
खबरें और भी हैं...