मुजफ्फरपुर में जलजमाव वाले बूथों पर चुनाव कराना चुनौती:सकरा के आधा दर्जन से अधिक बूथों पर जलजमाव, अत्यधिक बारिश के कारण सड़कों पर भी लगा पानी

मुजफ्फरपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बूथ पर जलजमाव की समस्या बनी हुई। - Dainik Bhaskar
बूथ पर जलजमाव की समस्या बनी हुई।

मुजफ्फरपुर में शुक्रवार को सकरा और मुरौल प्रखंड में चुनाव होना है। इन इलाकों में जोरोशोरों से प्रचार प्रसार प्रय्याशियों द्वारा किया जा रहा है। जो अब बन्द हो जाएगा। लेकिन, यहां चुनाव कराना सबसे बड़ी चुनौती साबित होने वाली है। क्योंकि आधा दर्जन से अधिक बूथों पर जलजमाव की समस्या बनी हुई है। जिले में तीन दिनों तक हुई अत्यधिक बारिश कहीं प्रत्याशियों और मतदाताओं के उत्साह पर पानी न फेर दे। बूथ तक जाने वाली कई सड़के भी जलमग्न है। कुछ बूथों का हाल तो ऐसा है की यहां काफी जंगल और कीचड़ है। मतदाताओं को वोटिंग करने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। हालांकि, एक राहत वाली बात है की दो दिनों से जिले में बारिश बन्द है। लेकिन, बूथों पर जमा पानी नहीं निकला है और नहीं इसकी कोई व्यवस्था अबतक की गई है।

यहां है जलजमाव की समस्या

सकरा के मझौलिया गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय उर्दू, प्राथमिक विद्यालय तुलसीमोहनपुर, प्राथमिक विद्यालय बरुआ और गौरिहार पंचायत के भी स्कूलों पर जलजमाव है। ऐसे में मतदाता मतदान करने कैसे जाएंगे। ये देखने वाली बात होगी। क्या प्रशासन की तरफ़ से कोई समाधान निकाला जाएगा या नहीं। ये चुनाव वाले दिन देखने को मिलेगा। अब तक तो इसके संकेत नहीं मिल रहे हैं।

इस बार कैसी रहेगी व्यवस्था

बता दें कि सरैया और मड़वन प्रखंड में हुए चुनाव में भारी अव्यस्था देखने को मिली थी। सरैया में तीन बजे तक मतदान कराने का आदेश जारी किया गया था। लेकिन, यहां कई बूथों पर अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गयी थी। देर रात 11 बजे तक वोटिंग चलता रहा। जब प्रशासन द्वारा जबरन EVM मशीन के जाने की कोशिश की गई तो उपद्रवियों द्वारा पथराव भी किया गया था। अब सकरा और मुरौल प्रखंड में प्रशासन की वैसी ही व्यवस्था होगी या इसमें सुधार होगा। ये चुनाव वाले दिन पता लगेगा।

खबरें और भी हैं...