भोजपुरी में PG विभाग खोलने की मांग:बिहार विवि में पढ़ाई की मांग, वर्ष 2018 में ही सिंडिकेट और एकेडमिक काउंसिल में प्रस्ताव हुआ था पास

मुजफ्फरपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

मुजफ्फरपुर जिले के बीआरए बिहार विवि में भोजपुरी में पीजी विभाग खोलने की मांग की गई है। उक्त मांग पूर्व कुलपति व अखिल भारतीय भोजपुरी साहित्य सम्मेलन के अध्यक्ष प्रो रिपूसुदन श्रीवास्तव ने की। उन्होंन कहा कि भोजपुरी देश-दुनिया में बोली जाने वाली भाषा है। यह अब वैश्विक भाषा बन गयी है। इसलिए अब इसकी पढ़ाई बिहार विवि में पीजी स्तर में होनी चाहिए। इस बारे में उन्होंने सीनेट सदस्यों से भी अपील की है कि इस प्रस्ताव को बैठक में पास करायें।

बताया जाता है कि लंगट सिंह कॉलेज में भोजपुरी विभाग के अध्यक्ष प्रो. जयकांत सिंह ने कहा कि वर्ष 2018 में ही विवि के सिंडिकेट और एकेडमिक काउंसिल में भोजपुरी में पीजी का प्रस्ताव पास हो चुका है। सरकार का भी इस बारे में पत्र है कि अगर किसी विषय में एक भी शिक्षक हो तो उसमें पीजी की पढ़ाई शुरू हो सकती है।

इस बार भी हुए एकेडमिक काउंसिल में भोजपुरी में पीजी की पढ़ाई को पास कराया गया था लेकिन जानकारी मिली है कि सीनेट के लिए बनायी गयी रिव्यू कमेटी ने इसे नहीं शुरू करने की अनुशंसा की है। यह गलत है। जब एकेडमिक काउंसिल ने इसे पास कर दिया तो रिव्यू कमेटी इसे नहीं खारिज कर सकती।