IAS पूजा के करीबियों के घर ED का छापा:CM सोरेन के PS के करीबी पर भी दबिश; विशाल चौधरी हिरासत में

मुजफ्फरपुरएक महीने पहले

झारखंड की वरिष्ठ IAS पूजा सिंघल (निलंबित) की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही है। ED ने पूजा के करीबियों के रांची में 6 जगहों और मुजफ्फरपुर में छापे मारे। रांची में पूजा के करीबी के बेटे विशाल चौधरी के घर काफी कैश मिला है। ED ने नोट गिनने के लिए तीन मशीनें मंगाई हैं। सूचना है कि उसके घर से 5 करोड़ रुपए कैश मिले हैं। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। 8 घंटे तक लंबी पूछताछ के बाद देर शाम चौधरी को ED ने हिरासत में ले लिया।

पूजा सिंघल के करीबी त्रिवेणी चौधरी के बेटे विशाल चौधरी का झारखंड में इंजीनियरिंग कॉलेज है। अशोक नगर गेट नंबर छह स्थित घर पर विशाल की मां थीं। वह ED की कार्रवाई का विरोध करने लगी। अफसरों के समझाने पर वे शांत हुईं।

इधर, ED की एक टीम मुजफ्फरपुर में छापेमारी करने पहुंची। यहां राहुल नगर रोड नंबर 15 में त्रिवेणी चौधरी का घर है। यहां स्थानीय पुलिस के साथ टीम घर मे अंदर जांच कर रही है। कागजात खंगाले जा रहे हैं। अंदर की तस्वीर से लग रहा है कि कागजों का मोटा बंडल है। जिसे एक-एक कर ED के अधिकारी जांच कर रहे हैं।

हालांकि, रेड के संबंध में कोई भी जानकारी नहीं दी जा रही है। ED के अधिकारी कुछ भी बताने से इनकार कर रहे हैं। वहीं आसपास के लोगों ने भी चुप्पी साध ली है।

कूड़ेदान से मिला आई फोन

छापेमारी के दौरान ED ने कूड़ेदान से उसका आई फोन बरामद किया है। वहीं, इस कचरे से कई अहम कागजात भी मिले हैं। इसमें राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों का डिटेल है। इस कार्रवाई के बाद अब ऐसा समझा जा रहा है कि कुछ IAS अधिकारियों से भी पूछताछ की जा सकती है। उनमें से कुछ ऐसे अधिकारी हैं, जो राज्य सरकार की गुडबुक में हैं।

CM हेमंत सोरेन के प्रिंसिपल सेक्रेटरी के करीबी पर ED की दबिश

पूजा सिंघल के बाद अब ED की जांच की आंच अब CM हेमंत सोरेन के प्रिंसिपल सेक्रेटरी राजीव अरुण एक्का के करीबीयों तक पहुंच गई है। मंगलवार सुबह ED बिहार-झारखंड के अलग-अलग 7 ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। इसमें एक नाम आइएएस राजीव अरुण एक्का के करीबी निशित केसरी का भी है।

ये राजीव अरुण एक्का के बेहद करीबी माने जाते हैं। पेशे से बिल्डर हैं। निशित केसरी ने हाल के दिनों में हरमू, अशोक नगर और कटहल मोड़ रोड में कई बड़े अपार्टमेंट का निर्माण किया है।

त्रिवेणी चौधरी सत्ता और पूजा के करीबी

त्रिवणी चौधरी कौशल विकास विभाग में सीनियर अफसर हैं। इन्हें सत्ता और पूजा का करीबी बताया जाता है। बताया जा रहा है कि विशाल चौधरी के ठिकाने से भारी मात्रा में नकदी बरामद हुई थी। ED ने नकदी गिनने के लिए बैंक नोट गिनने की मशीन मंगवाई है।

त्रिवेणी चौधरी के घर पर छापेमारी करती टीम।
त्रिवेणी चौधरी के घर पर छापेमारी करती टीम।

अवैध माइनिंग से जुड़ा मामला

सूत्रों की मानें तो ये मामला अवैध माइनिंग से जुड़ा है। जिसमें विशाल चौधरी भी आरोपी है। त्रिवेणी के बारे में बताया जा रहा है कि वे विशाल चौधरी के पिता हैं। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं नही है। इसी मामले को लेकर इनके घर पर भी रेड चल रही है। घर के मेन गेट को बंद कर दिया गया है। अंदर किसी भी बाहरी या मीडियाकर्मी को जाने की मनाही है। परिसर में पुलिस फोर्स की तैनाती है। वे भी कुछ बोलने से परहेज कर रहे हैं।

मुजफ्फरपुर पुरानी मोतिहारी रोड में त्रिवेणी चौधरी के घर पर ED की रेड चल रही है।
मुजफ्फरपुर पुरानी मोतिहारी रोड में त्रिवेणी चौधरी के घर पर ED की रेड चल रही है।

फोटो स्टेट वाला कागज मंगाया

ED के अधिकारियों ने फोटो स्टेट करने वाले कागज का बंडल बाहर से मंगवाया है। दो व्यक्ति इसे लेकर पहुंचे हैं। बाहर से ही इसे जवानों को दिया गया है। जवानों ने इस बंडल को अंदर पहुंचा दिया है। कहा जा रहा है कि इस कागज़ का फोटो स्टेट करने में इस्तेमाल किया जाएगा। चर्चा है कि टीम जेरॉक्स मशीन भी लेकर आई है।