मुजफ्फरपुर में प्रिंटिंग प्रेस कर्मी का मर्डर:दरवाजे पर चढ़कर अपराधियों ने छाती और कनपटी में मारी दो गोली, अवैध संबंध में हत्या की आशंका

मुजफ्फरपुर4 महीने पहले
मृतक संजीत सिंह की फ़ाइल फ़ोटो।

मुजफ्फरपुर जिले के तुर्की ओपी क्षेत्र के पुपरी में गोली मारकर प्रिंटिंग प्रेस में काम करने वाले संजीत सिंह (45) की हत्या कर दी गयी। आरोपी ने उन्हें दो गोली मारी। एक गोली छाती और दूसरी कनपटी के पास लगी। मौके पर ही उनकी मौत हो गयी। घटना को अंजाम देकर आरोपी और उसका एक साथी फरार हो गया। गोली चलने की आवाज सुनकर आसपास के लोग और परिजन भागकर मौके पर पहुंचे।

आरोपी को भागता हुआ देखकर मृतक के भतीजे करन ने पीछा भी किया। लेकिन, दोनों बाइक से भाग निकले। घटना के बाद चीख पुकार मच गई। काफी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। तुर्की ओपी प्रभारी रवि प्रकाश फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। घटना को लेकर लोगों में आक्रोश व्याप्त था। सभी को समझाकर शांत कराया गया। पुलिस ने घटनास्थल पर जांच की। मौके से दो खोखा बरामद किया गया। पुलिस पूछताछ में परिजन ने पड़ोसी अभय प्रताप सिंह पर हत्या करने का आरोप लगाया है। वहीं दूसरे आरोपी की पहचान नहीं कर सके हैं। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

घटना के बाद लगी लोगों की भीड़।
घटना के बाद लगी लोगों की भीड़।

दरवाजे पर चढ़कर मारी दो गोली

रविवार सुबह संजीत बाथरूम गए हुए थे। इसी दौरान आरोपी उन्हें खोजता हुआ दरवाजे पर आया। बाहर से संजीत चाचा-संजीत चाचा आवाज लगाई। अंदर से उनके बड़े भाई रंजीत सिंह निकले। उन्होंने आरोपी से कहा कि संजीत बाथरूम गया है। दोनों आरोपी वहीं पर इंतजार करने लगे। इसी दौरान संजीत बाहर निकलकर आये। दोनों के बीच बकझक होने लगी। तभी उसने कमर से पिस्टल निकाला और दो गोली फायर कर दिया। संजीत वहीं पर गिर गए और उनकी मौत हो गयी।

अवैध सम्बन्ध की सामने आ रही बात

परिजन ने बताया कि संजीत खबरा में एक प्रिंटिंग प्रेस में काम करते थे। आरोपी का घर उनके घर के ठीक सामने है। वह पहले भी एक केस में जेल जा चुका है। आरोप है कि वह अक्सर नशापान करता था और पिस्टल लेकर घूमता था। यानी उसकी गतिविधि संदिग्ध थी। आरोपी और मृतक का बेटा आपस मे दोस्त थे। थानेदार ने कहा कि मृतक के बेटे और आरोपी की पत्नी के बीच अवैध प्रेम संबंध की बात सामने आई है। पूछताछ में पता लगा कि आरोपी की पत्नी को लेकर संजीत का बेटा अनिकेत देर रात भाग गया था। इसी प्रतिशोध में घटना को अंजाम देने की बात पुलिस को पता लगी है। थानेदार का कहना है कि सभी एंगल पर जांच की जा रही है।