मुजफ्फरपुर में बूथों पर बिजली नदारद, मतदाताओं ने किया हंगामा:गायघाट में कई बूथों पर समस्या से जूझ रहे मतदाता, जेनरेटर की सुविधा नहीं

मुजफ्फरपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुजफ्फरपुर में बूथों पर बिजली नदारद। - Dainik Bhaskar
मुजफ्फरपुर में बूथों पर बिजली नदारद।

मुजफ्फरपुर के बंदरा व गायघाट प्रखण्ड में पंचायत चुनाव कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शुरू हुआ है। पंचायत चुनाव के लिए दोनों प्रखंडों में कुल 496 बूथ बनाये गए हैं। इन बूथों पर लगभग ढाई लाख मतदाता चुनाव मैदान में खड़े 4257 प्रत्याशियों का भाग्य तय करेंगे। गायघाट के 23 पंचायतो के 329 बूथो पर मतदान किया जा रहा है। वहीं, सभी बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी है। लेकिन कई ऐसे बूथ है जंहा मूलभूत सुविधा नही देखने को मिल रही है। बिजली की समस्या से मतदाता काफी परेशान है। जिस कमरे में EVM रखा है।

वहां बिजली नहीं होने से वोटिंग करने में दिक्कत हो रही है। मतदाताओं का कहना है कि EVM का बटन नहीं दिख रहा है। मतदाताओं में राजीव कुमार, रामसोगरथ पासवान, राजकुमार समेत अन्य ने इसकी शिकायत भी मतदान कर्मियों से की। लेकिन, कोई निदान नहीं निकला। इसे लेकर मतदाताओं ने हंगामा भी किया। लेकिन, सुरक्षाकर्मियों ने सभी को समझाकर शांत करा दिया। इधर, गायघाट के बूथ संख्या 142,143, और 144 पर भारी संख्या में मतदाताओं की भीड़ उमड़ पड़ी। लेकिन, वोटिंग की गति काफी धीमी थी। इस कारण सभी मतदाता जमीन पर ही बैठ गए। काफी देर बाद भी जब उनकी बारी नहीं आयी तो सभी ऊब गए और हंगामा करने लगे। कहने लगे कि मतदान कर्मी काफी धीमी गति से वोट गिरवा रहे हैं। इससे महिला और बुजुर्गों को परेशानी हो रही है। पुलिस जवानों ने सभी को शांत कराया।

वंही केवटसा पँचायत के केवटसा मध्य विद्यालय में अंधेरे की वजह से वोटिंग की रफ्तार धीमी है। बूथ परजाइटिंग ऑफिसर ने भी कहा कि अंधेरे की वजह से वोटिंग रफ्तार धीमी है। वंही मतदाताओं की माने तो उनके अंधेरे की वजह से पता नही चल रहा है कि evm में किसे वोट दे रहे है।

खबरें और भी हैं...