मुजफ्फरपुर जंक्शन से आंख के मरीज को भेजा SKMCH:22 नवंबर को आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद का ऑपरेशन करवाया था, परेशानी होने पर वापस आए, पर डॉक्टर नदारद

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। - Dainik Bhaskar
पीड़ित को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद का ऑपेरशन कराने के बाद आंखों की रोशनी खो चुके मरीजों का आंकड़ा बढ़ता दिख रहा है। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम मुजफ्फरपुर जंक्शन से एक मरीज व उसके परिजनों का रेस्क्यू किया। इसके बाद उसे सदर अस्पताल लाया गया है। यहां से उसे आनन फानन में बेहतर इलाज के लिए SKMCH भेजा गया है। पीड़ित मरीज पश्चिमी चंपारण के चनपटिया के रहने वाले ठाकुर शर्मा है। वे लकड़ी का काम करते है।

बताया जा रहा है कि 22 नवंबर को उनका भी मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया गया था। इसके बाद से उनके आंखों में समस्या आने लगी थी। इसके बाद वे एक बार लौट गए थे। गुरुवार को वे अपने पत्नी के साथ मुजफ्फरपुर पहुंचे थे। फिर, जुरण छपरा स्तिथ आई हॉस्पिटल पहुंचे। लेकिन, वहां कोई नही था। इसके बाद वे वापस मुजफ्फरपुर जंक्शन पहुंचे। ताकि, वहां से ट्रेन पकड़कर वापस गांव जा सके। इसी बीच स्वास्थ्य विभाग की टीम को सूचना मिली।

सूचना के आधार पर टीम उनकी खोजबीन शुरू कर दिया। इसके बाद मुजफ्फरपुर जंक्शन से रेस्क्यू किया गया। इसके बाद उन्हें सदर अस्पताल लाया गया। फिर, यहां से SKMCH भेजा गया है। जहां उनकी आंखों का इलाज किया जाएगा। मरीज ने कहा कि अब काम करने में दिक्कत आ रही है। आंख ही नही रहेंगी तो काम कैसे होगा। परिवार कैसे चलेगा।