पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुजफ्फरपुर में पुलिस अभिरक्षा से आरोपित फरार:पहले दो युवकों ने दरोगा को बातों में उलझाया, तभी हथकड़ी से हाथ सड़काकर भाग निकला शातिर

मुजफ्फरपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोर्ट परिसर में मौजूद पियर थाना की पुलिस। - Dainik Bhaskar
कोर्ट परिसर में मौजूद पियर थाना की पुलिस।

मुजफ्फरपुर जिले के पियर थाने की पुलिस को चकमा देकर मोबाइल चोरी करने का आरोपित फरार हो गया। पियर थाना के दारोगा भिखारी रजक और सैप जवान पीछा करते रहे गए। लेकिन, वह समाहरणालय की तरफ से होते हुए भाग निकला। पुलिस के हाथ बस रस्सी रह गया। जिससे चोर को हाथ मे बांधकर लाया गया था। घटना कोर्ट परिसर में घटी। सूचना मिलने पर टाउन थाना की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की। थानेदार ओमप्रकाश ने बताया कि फरार शातिर की तलाश में छापेमारी की जा रही है। फरार शातिर की पहचान गायघाट के रूपेश कुमार के रूप में हुई है।

बताया गया कि शनिवार को पियर थाना क्षेत्र के घोसरमा गांव के मोहम्मद मुस्तकीम की दुकान से मोबाइल चोरी कर भाग रहा था। शोर मचाने पर आसपास के लोगों के सहयोग से उसे दबोच लिया गया। उसकी जमकर धुनाई की गई थी। पियर थानेदार रवि गुप्ता ने मौके पर पहुंचकर उसे हिरासत में लिया था। उसके खिलाफ मुस्तकीम ने फिर दर्ज कराया था।

पेशी को लेकर आये थे कोर्ट :

रविवार को रूपेश को लेकर दारोगा भिखारी रजक, दो सैप जवान और चौकीदार उसे लेकर कोर्ट में पेशी कराने आये थे। कोर्ट परिसर में ही दो युवक पहले दारोगा से किसी बात को लेकर उलझ गए। जमकर नोकझोंक करने लगे। शातिर को चौकीदार ने पकड़ रखा था। मौका देखकर वह रस्सी से हाथ सड़काकर भाग निकला।

साजिश के तहत भगाया गया :

आरोपित के फरार होने के बाद दोनों युवक भी निकल गए। तब पुलिस को समझ आया की दोनों उसी शातिर के परिचित रहे होंगे। और एक साजिश के तहत उसे भगाने में मदद की है। हालांकि, एक चौकीदार के भड़ोसे आरोपित को छोड़ना पुलिस की भी लापरवाही है। SSP जयंत कांत ने कहा कि DSP से रिपोर्ट मांगी गई है। लापरवाही सामने आने पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...