भरभरा कर गिर पड़ी पानी टंकी:मुजफ्फरपुर में भ्रष्टाचार के भेंट चढ़ी CM की नल-जल योजना; पिलर समेत घर पर गिरी 1 महीने से निर्माणाधीन पानी टंकी, बाल-बाल बचे 8 लोग

मुजफ्फरपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
हादसे के बाद का नजारा। - Dainik Bhaskar
हादसे के बाद का नजारा।

मुजफ्फरपुर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के महत्वकांक्षी घर जल नल योजना भरभरा कर मिट्टी में मिल गई। ताजा मामला जिले के मिठनपुरा थाना क्षेत्र स्तिथ रामबाग के वार्ड 41 की है, जहां निर्माणाधीन पानी टंकी पिलर समेत पड़ोस के एक घर पर जा गिरी। घर में उस वक्त 8 लोग मौजूद थे, लेकिन सभी बाल-बाल बच गए। हादसे से गांव में हड़कंप मच गया है।

घर के मालिक मो. नौशाद उर्फ छोटू ने बताया कि करीब 1 महीने से मोहल्ले के लोगों के लिए पानी टंकी का निर्माण किया जा रहा था। आज निर्माणाधीन पानी टंकी पिलर हमारे घर पर जा गिरी। अचानक से भरभरा कर गिरने से इलाके में हड़कंप मच गई। उस दौरान घर के भीतर 7 बच्चे और उनकी पत्नी थी। छत गिरने के दौरान तेज धमाका हुआ। ऐसा लगा कि भूकंप आ गया। एक तरफ से झोपड़ी का घर पूरी तरह से बर्बाद हो गया। कई सामान भी नुकसान हो गया।

हादसे के बाद घर के भीतर से किसी तरह बच्चे और पत्नी को निकाला गया। बच्चे काफी डरे हुए थे। इधर, स्थानीय लोगो ने बताया कि पानी टंकी भ्रष्टाचार की भेट चढ़ गई। बताया गया कि हादसे वक़्त कई लोगो की जा सकती थी, लेकिन बड़ा हादसा होते-होते रह गया। टंकी के गिरने से मलबा सड़कों पर और पास के एक झोपड़ी नुमा मकान पर बिखर गया। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों में न सिर्फ आक्रोश व्याप्त है बल्कि सरकार की महत्वकांक्षी माने जाने वाली इस योजना का न जाने फजीहत होता हुआ दिख रहा है।

लोगो ने कहा नियमों को ताक पर रख निर्माण कराए जाने का मामला तो दूर की बात गुणवत्ता में भी नियमों को ताक पर रखकर कराया जा रहा है। लोगो के मुताबिक बालू की जगह मिट्टी मिली बालू का उपयोग किया जा रहा है। जिसके कारण यह हादसा हुआ।

खबरें और भी हैं...