जल्द ही दाेनाें मामले में काेर्ट में हाेना:थाने में चाेरी! शराब तस्करों से जब्त दाे बाइक सरैया थाना परिसर से गायब

मुजफ्फरपुर2 महीने पहलेलेखक: शैलेश कुमार
  • कॉपी लिंक
थाने में खड़े जब्त वाहन। - Dainik Bhaskar
थाने में खड़े जब्त वाहन।

जब्त की गई शराब थाने में चूहे के गटक जाने की खबर के बाद एक और सनसनीखेज खुलासा हुआ है। अब मुजफ्फरपुर में शराब माफियाओं से जब्त दाे बाइक थाने से चाेरी हाेने का खुलासा हुआ है। मामला सरैया थाना परिसर का है। यहां से माेटर साइकिल चाेरी की सूचना के बाद पुलिस में हड़कंप का माहौल है। पुलिस बाइक बरामदगी काे लेकर अपने जासूसों का मदद ले रही है।

हालांकि, सरैया के थानेदार जय प्रकाश सिंह बाइक चाेरी की घटना से इनकार कर रहे हैं। यह दीगर है कि मालखाना का चार्ज देने और काेर्ट में रिपोर्ट सौंपने के लिए जब्त की गई माेटर साइकिल की तलाश में पुलिस अफसर की नींद हराम है। सरैया थाने में संतरी पहरा के बावजूद माेटर साइकिल चाेरी से पुलिस की साख पर बट्टा लगा है। सरैया में ही जहरीली शराब से लाेगाें की माैत भी हुई थी।

शराब तस्करों से जब्त बाइक भी इसी थाने से चाेरी हाेने के बाद पुलिस तंत्र पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। पुलिस के उच्चस्तरीय सूत्रों के मुताबिक चाेरी हुई दाेनाें बाइक जमादार विरेंद्र पासवान ने अलग-अलग समय में शराब तस्करों के ठिकाने से जब्त की थी। दाेनाें मामलों की एफआईआर और जब्ती सूची में भी बाइक का डिटेल है।

जल्द ही दाेनाें मामले में काेर्ट में भी ट्रायल हाेना है। दैनिक भास्कर ने जब सरैया थाना अध्यक्ष जय प्रकाश सिंह से इस बाबत पूछा, ताे उन्होंने कहा- किसी ने गलत सूचना दे दी हाेगी। एेसी काेई बात नहीं है। सरैया एसडीपीओ राजेश कुमार शर्मा ने कहा कि इस तरह की सूचना अब तक नहीं दी गई है।
शराब माफिया अमरजीत के ठिकाने से जब्त टीवीएस भी थाना परिसर से चाेरी

इन मामलों में जब्त बाइक हुई चाेरी

सरैया थाने के जमादार विरेंद्र पासवान ने 1 फरवरी 22 काे अमरजीत सहनी काे शराब के साथ गिरफ्तार किया। छापेमारी में अमरजीत के ठिकाने से टीवीएस कंपनी की बाइक बीआर 06 सीएच 0421 जब्त की गई। बाइक के हैंडल में लटके झाेले से शराब बरामद हुई। जिसके बाद बाइक जब्त कर थाना परिसर में रखी गई। एफआईआर में भी बाइक बरामदगी है। इसकी जब्ती सूची भी बनाई गई थी।

​​​​​​​24 दिसंबर 2021 काे सरैया पुलिस के जमादार विरेंद्र पासवान ने गोविंदपुर के शराब तस्कर नागेंद्र भगत व उसका बेटे नंदलाल भगत के घर के पीछे एसबेस्टस वाले मकान में छापेमारी कर शराब की खेप पकड़ी। वहीं एचएफ डीलक्स बीआर 06 बीजी 3062 बाइक बरामद की गई। बाप-बेटे काे गिरफ्तार कर बाइक के साथ थाने लाया गया। यह बाइक भी थाने से चाेरी हाे गई।

ऐसे हुआ खुलासा- मालखाना का चार्ज देने के दाैरान खोजबीन करने पर पता चला

थानेदार बाेले​​​​​​​- ​​​​​​​थाने से नहीं चाेरी हुई है बाइक दाे दिनाें से पुलिस की नींद हराम

आईजी ने जताई थी नाराजगी

तीन माह पहले तिरहुत क्षेत्र के आईजी पंकज सिन्हा ने सरैया थाने का निरीक्षण किया था। उन्होंने थाना परिसर में बेपरवाह ढंग से रखी बाइक काे लेकर गहरी नाराजगी जताई थी। इसके बाद सारी बाइक के थानेदार के आवास से कुछ दूरी पर कतार में रखी गई। उसी कतार से बाइक चाेरी की बात सामने अा रही है।
एडवाेकेट ने कहा-

जब्त प्रदर्श पेश नहीं किया तो अभियुक्त काे मिलेगा लाभ

थाने में जब्त प्रदर्श काेर्ट में ट्रायल के दाैरान पेश नहीं करने पर अभियुक्त काे लाभ मिलेगा। जब्त बाइक काेर्ट में प्रस्तुत नहीं करने पर शराब तस्करों काे सजा में भी कानूनी अड़चन अा सकती है। जब पुलिस काेई जब्ती करती है और काेई प्रदर्श किसी कारण से विनष्ट हाे जाता है, ताे अविलंब स्टेशन डायरी कर काेर्ट काे सूचित करने का कानून है। जबकि, चाेरी हाेने पर एफआईआर के 24 घंटे के अंदर काेर्ट काे सूचित करना है।

- डाॅ. संगीता शाही, वरिष्ठ अधिवक्ता

खबरें और भी हैं...