पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का बढ़ता प्रकोप:कोविड केयर निजी अस्पताल फुल, 50 से अधिक कोरोना संक्रमित वेटिंग में

मुजफ्फरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इधर, जंक्शन पर पवन और बांद्रा एक्सप्रेस से उतरे रेल यात्रियों की हो रही कोरोना जांच। - Dainik Bhaskar
इधर, जंक्शन पर पवन और बांद्रा एक्सप्रेस से उतरे रेल यात्रियों की हो रही कोरोना जांच।
  • एसकेएमसीएच में अब सिर्फ गंभीर मरीज ही होंगे भर्ती

जिला मुख्यालय में चल रहे दो निजी काेविड केयर अस्पतालाें में अब काेराेना मरीज काे रखने की जगह नहीं है। वैशाली कोविड केयर के संचालक वरीय मेडिसीन विशेषज्ञ डाॅ. बी. मोहन व डाॅ. गौरव वर्मा ने बताया कि यहां के 23 बेड में सब पर मरीज भर्ती हैं। हालत गंभीर होने से 2 काे वेंटिलेशन पर रखा गया है। स्थिति विस्फोटक है। 20-25 लोग वेटिंग में हैं। प्रसाद हाॅस्पिटल के प्रबंधक अमर कुमार ने बताया कि उनके यहां सभी 35 बेड पर मरीज हैं। कई मरीज वेटिंग में हैं। गुरुवार को 15 अतिरिक्त बेड का इंतजाम किया जाएगा। उन्हाेंने कहा कि इस बार हालत पिछली बार से ज्यादा भयावह है। पिछली बार 10-15 मरीज ही भर्ती के लिए आ रहे थे, इस बार 35 भर्ती हैं और 10-20 और लोग संपर्क में हैं।

एसकेएमसीएच में सिर्फ 16 बेड खाली, 38 अतिरिक्त का किया गया इंतजाम : एसकेएमसीएचस अधीक्षक डाॅ. बीएस झा ने बताया कि उनके यहां अब तक सामान्य काेराेना मरीज भी भर्ती हो रहे थे। लेकिन, अब सिर्फ रेफर यानी गंभीर मरीज ही भर्ती लिए जाएंगे। मरीज की संख्या में लगातार वृद्धि हाे रही है। यहां पहले चरण में 38 बेड थे। उनमें से 22 पर मरीज भर्ती हैं। मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। इसके लिए 38 अतिरिक्त बेड का इंतजाम करके रखा गया है। चिकित्सक भी राउंड ओ क्लाक लगा रहे हैं। हर जरूरी दवाएं उपलब्ध हैं।

उधर, पटना के अस्पताल भी फुल, अति गंभीर मरीज ही होंगे रेफर

अब गंभीर कोरोना मरीजाें का भी जिले में ही इलाज हाेगा। पटना के सभी अस्पतालाें के कोरोना मरीजों से फुल होने के कारण मुख्यालय ने सीएस को निर्देश दिया है। प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने वीसी पर सूबे के सभी सिविल सर्जन से कहा है कि गंभीर मरीजाें का स्थानीय अस्पतालों में ही इलाज किया जाए। मरीज अति गंभीर होने पर ही पटना रेफर किए जाएं। मुख्यालय के निर्देश के आलाेक में सीएस ने बुधवार को एसकेएमसीएच अधीक्षक को भी अवगत कराया। ग्लोकल हॉस्पिटल में 24 घंटे तैनात चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ को रोस्टर के अनुसार अलर्ट रहने काे कहा। बताया कि सामान्य बीमार मरीज को ग्लोकल हॉस्पिटल में भर्ती कर प्रोटोकॉल के अनुसार इलाज किया जाए। गंभीर होने पर एसकेएमसीएच भेजा जाएगा। अति गंभीर होने की स्थिति में ही पटना रेफर किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें