मुजफ्फरपुर में गोली मारकर छात्र की हत्या:एक युवक गंभीर रूप से हुआ घायल, बुझ गया घर का इकलौता चिराग

मुजफ्फरपुर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वारदात के बाद लोगों की भीड़। - Dainik Bhaskar
वारदात के बाद लोगों की भीड़।

मुजफ्फरपुर जिले के काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के स्पीकर चौक पर सरेशाम गोली मारकर ग्रेजुएशन के छात्र की हत्या कर दी गयी। वहीं, उसके दोस्त को भी गोली मारकर घायल कर दिया। वह अस्पताल में भर्ती है। उसके गर्दन के समीप गोली लगी है। उसकी हालत गम्भीर बताई जा रही है।

मृतक की पहचान माड़ीपुर मदरसा रोड के मोहम्मद यासिर (22) के रूप में हुई है। जबकि घायल माड़ीपुर का रेहान है। मृतक के हुई गले के समीप ही गोली मारी गयी थी। घटना के बाद लोगों का आक्रोश फूट पड़ा। जमकर हंगामा करने लगे। हालांकि थानेदार सत्येंद्र सिन्हा ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाल लिया। शव का पोस्टमार्टम कराने की कवायद की जा रही है।

गोली मारकर मोहम्मद यासिर की हत्या। (फाइल फोटो)
गोली मारकर मोहम्मद यासिर की हत्या। (फाइल फोटो)

घूमने निकला था दोस्त के साथ
मृतक की बहन सम्मुख ने बताया कि शाम में उसका भाई बाइक लेकर घूमने निकला था। वह अक्सर शाम में दोस्तों के साथ समय बिताने जाता था। उसके जाने के कुछ देर बाद ही पड़ोस के एक लड़के ने आकर उनलोगों को बताया कि यासिर को गोली मार दिया गया है। उस समय वह जीवित था। इसके बाद सभी लोग उसे जुरन छपरा स्थित एक निजी अस्पताल में ले गए। जहां उसकी मौत हो गयी।

जिंदा समझकर फिर गए हॉस्पिटल
हॉस्पिटल से यासिर को लेकर सभी माड़ीपुर पहुंचे। इसी दौरान हल्ला होने लगा कि उसकी सांसे चल रही है। उसे माड़ीपुर से लेकर फिर वे लोग कांटी में एक हॉस्पिटल में ले गए। जहां देखते ही डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

चाय दुकान पर खड़ी मिली बाइक
मृतक की बाइक बटलर के समीप एक चाय दुकान के बाहर खड़ी मिली। दुकानदार ने बताया कि शाम में वह तीन-चार लड़कों के साथ दुकान पर आया था। कुछ देर तक सब आपस मे बात करते रहे। इस दौरान उसकी बाइक वहीं पर खड़ी थी। कुछ देर बाद सभी निकल गए। इससे अधिक उसे कुछ जानकारी नहीं है।

इकलौता चिराग था यासिर
मृतक की बहन ने बताया कि यासिर घर का इकलौता चिराग था। उसके पिता मोहम्मद लाडले सऊदी में रहकर व्यवसाय करते हैं। यासिर अभी पढाई कर रहा था। पढ़ लिखकर सरकारी नौकरी करना चाहता था। उसकी बहन का कहना है कि घटना का कारण पता नही लगा है। उसकी किसी से दुश्मनी नही थी।

वहीं, थानेदार ने बताया कि घायल का बयान दर्ज होगा तभी घटना का कारण स्पष्ट होगा। वैसे पुलिस आपसी विवाद समेत सभी बिन्दुओ पर जांच कर रही है। घायल बोलने की स्थिति में नहीं है। उसके गले के पास गोली लगी है।

खबरें और भी हैं...