पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फाइल ही गायब:शिक्षक के आश्रितों ने दिया फैमिली पेंशन का आवेदन

मुजफ्फरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विवि किसी को बिना जांच किए दे रहा पेंशन, कोई उचित लाभ से भी वंचित

बीआरएबीयू पेंशन शाखा में लापरवाही और अनियमितता की छानबीन में परतें खुल रही हैं। पूर्व प्राचार्य डॉ. चंद्रमौली सिंह और डॉ. शिववचन शर्मा के निधन के बाद उनके आश्रित फैमिली पेंशन का आवेदन देकर चक्कर काट रहे हैं। इनकी फाइल ही गुम हाे गई।

विवि पेंशनधारी समाज के अध्यक्ष डॉ. कृष्णकांत सिन्हा ने कहा कि शिववचन शर्मा की पत्नी काे विवि में आवेदन देने के बाद पता चला कि पेंशन की संचिका गुम है। विश्वविद्यालय का कहना है कि डॉ. चंद्रमौली सिंह की फैमिली पेंशन की फाइल बढ़ा दी गई है। डाॅ. सिन्हा ने कहा कि विवि को कमेटी बना कर समय सीमा में पूरे मामले की छानबीन करानी चाहिए। विवि में तकरीबन 3000 पेंशनधारी हैं।

कोरोना के दौर में 42 कर्मियों का निधन
कोरोना काल में एक साल के अंदर अंगीभूत महाविद्यालयों के तकरीबन 4 दर्जन से अधिक शिक्षक एवं कर्मियों का निधन हुआ है। विवि पेंशन शाखा ने 42 की लिस्ट बनाई है। विवि में हर कुछ दिन पर कॉलेजों से एक-दो शिक्षक-कर्मियों के निधन की जानकारी आ रही है।

जिम्मेदार बाेले- अभी विवि आए ही हैं
वित्त पदाधिकारी विनोद कुमार ने दैनिक भास्कर के खुलासे के बाद पेंशन शाखा से मृत पेंशनधारियों काे भुगतान की सूची मांगी है। नवनियुक्त वित्त सलाहकार वित्त व लेखा अधिकारी जेपी शर्मा ने कहा कि अभी आए ही हैं। ऑफिस खुलने पर गड़बड़ियां दुरुस्त करेंगे।

खबरें और भी हैं...