पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनट्रेंड जवानों के हाथ में ट्रैफिक:ऑटो और बाइक चालक भी पहले निकलने के चक्कर में कतार तोड़ देते और सामने के वाहनों के लिए आगे बढ़ना हो जाता मुश्किल

मुजफ्फरपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को कंपनीबाग में लगा भीषण जाम। - Dainik Bhaskar
मंगलवार को कंपनीबाग में लगा भीषण जाम।

शहर में जरूरी जगहाें पर भी ट्रैफिक पुलिस या अन्य जवानाें की तैनाती नहीं है। लोग भी अतिक्रमण से बाज नहीं आ रहे हैं। ऑटो चालक रूल मानने के लिए तैयार नहीं ताे बाइक चालक भी पहले निकलने के चक्कर में शहर में भीषण जाम लगा रहे हैं। अनलाॅक के बाद से हर दिन भीषण जाम लग रहा है। सोमवार के बाद मंगलवार को भी कंपनीबाग, जूरन छपरा, सरैयागंज, अघाेरियाबाजार व मिठनपुरा के क्लब राेड समेत शहर के कई हिस्साें में दिनभर लाेग भीषण जाम से जूझते रहे। शहर में ट्रैफिक संभालने के लिए पहले 140 जवानों की तैनाती थी। लेकिन, इसे बढ़ाने के बदले संख्या घटाकर 95 कर दी गई है।

इनमें भी अधिकतर हाेमगार्ड जवान हैं। आधा दर्जन से ज्यादा अधिकारियाें की भी कमी कर दी गई है। दूसरी तरफ ट्रैफिक पुलिस के जवानाें की सक्रियता कोरोना काल में जाे कम हुई, वह अब तक कायम है। ट्रैफिक पर इसका सीधा असर हाे रहा है। पहले ताे सोमवार काे ही अधिक परेशानी हाेती थी, अब हर दिन हर सड़क पर जाम लगने लगा है। शहरवासी हर दिन सुबह से शाम तक परेशानी झेल रहे हैं। लेकिन, पुलिस-प्रशासन के वरीय अधिकारी भी स्थाई निदान नहीं कर पा रहे हैं। स्थिति यह है कि ट्रैफिक व्यवस्था अनट्रेंड जवानों के हाथ में है और ऐसे में जाम लगना ताे तय है। मंगलवार को पूरे दिन बुरा हाल रहा।

हर स्तर पर पहल की जरूरत, यदि एक मिनट रुकेंगे तो घंटों जाम में नहीं फंसेंगे
शहर में हर दिन लग रहे भीषण जाम के निदान के लिए हर स्तर पर पहल की दरकार है। पुलिस-प्रशासन की ओर से हर पाेस्ट पर जवानाें की तैनाती के साथ-साथ रूल फाॅलाे कराने की जरूरत है। आटाे चालक कतार में चलने के साथ चाैराहाें से दूर हटकर सवारी बैठाएं, बाइक व अन्य वाहन चालक भी कतार न ताेड़ें। अन्यथा, 1 मिनट की जल्दबाजी से वाहन आमने-सामने आकर भीषण जाम लगाते हैं।

हर स्तर पर पहल की जरूरत, यदि एक मिनट रुकेंगे तो घंटों जाम में नहीं फंसेंगे
शहर में हर दिन लग रहे भीषण जाम के निदान के लिए हर स्तर पर पहल की दरकार है। पुलिस-प्रशासन की ओर से हर पाेस्ट पर जवानाें की तैनाती के साथ-साथ रूल फाॅलाे कराने की जरूरत है। आटाे चालक कतार में चलने के साथ चाैराहाें से दूर हटकर सवारी बैठाएं, बाइक व अन्य वाहन चालक भी कतार न ताेड़ें। अन्यथा, 1 मिनट की जल्दबाजी से वाहन आमने-सामने आकर भीषण जाम लगाते हैं।

खबरें और भी हैं...