हंगामा:बिना लक्षण वाले भी काेराेना जांच को आए सदर अस्पताल, इनकार पर हंगामा

मुजफ्फरपुर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्वास्थ्य विभाग द्वारा बुधवार काे जारी नई गाइडलाइन के अनुसार अब सिर्फ लक्षण वालाें की ही काेराेना जांच हाेगी। लेकिन, अन्य दिनाें की तरह ही गुरुवार काे भी सदर अस्पताल में काेराेना जांच के लिए लंबी कतार लग गई। जब उन्हें लाइन से हटाया जाने लगा ताे वे विराेध जताने लगे। पहले कर्मियों से नोकझोंक हुई, फिर हंगामा शुरू हो गया।

इससे अस्पताल में अफरातफरी मच गई। बाद में सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें शांत कराया। लोगों का कहना था कि वे 1 घंटा से अधिक लाइन में लगे रहे। जांच न हाेने के बारे में पता तब चला जब बारी आई। बता दें कि नई गाइडलाइन में कहा गया है कि जिनमें सर्दी-खांसी, बुखार या अन्य लक्षण हों उन्हीं की काेराेना जांच होगी। सीएस डाॅ. विनय शर्मा ने बताया कि नई गाइडलाइन से पीएचसी प्रभारियाें को अवगत करा दिया गया है। लोग पैनिक न हों। तभी जांच कराने पहुंचें जब कोई लक्षण हो।

एंबुलेंस चालकों का 21 को प्रदर्शन, 7 फरवरी से हड़ताल
बिहार राज्य चिकित्साकर्मी संघ इंटक एंबुलेंस चालक संघ ने गुरुवार को बैठक की। जिलाध्यक्ष कमलेश कुमार ने बताया कि पूर्व के समझौते को कंपनी नहीं मान रही है।

3 माह से वेतन व 5 साल से बोनस नहीं मिल रहा। इसलिए 21 को प्रदर्शन के बाद 22 जनवरी से 6 फरवरी तक काला बिल्ला लगा काम होगा। 7 फरवरी से हड़ताल होगी। बैठक में संघ के रोहित कुमार, मृत्युंजय कुमार, नीकेश कुमार, सुबोध शंकर पाठक आदि थे।

खबरें और भी हैं...