लखनऊ स्टेशन जैसे ब्लैक एंड व्हाइट होंगे दुकानाें के नाम:फेस लिफ्टिंग एक ही कलर का हाेगा दुकान और मकान का अगला हिस्सा

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इसी तरह दिखेगा सरैयागंज रोड - Dainik Bhaskar
इसी तरह दिखेगा सरैयागंज रोड

शहर के सूतापट्टी और टावर इलाके में दुकानाें के आगे बोर्ड लगाने यानी दुकानाें के नाम लिखने में दुकानदारों की मनमानी नहीं चलेगी। शहर का लुक अच्छा दिखे इसके लिए स्मार्ट सिटी से शहर में फेस लिफ्टिंग का काम चल रहा है।

इस प्रोजेक्ट के तहत अपने शहर में भी लखनऊ के हजरतगंज की तरह एक ही कलर से दुकानाें का साइन बोर्ड रहेगा। कंपनीबाग राेड से टावर हाेते हुए पंकज मार्केट, सूतापट्टी, इस्लामपुर और बैंक राेड में सभी दुकानाें के आगे ब्लैक बोर्ड पर सफेद कलर से दुकान और प्रतिष्ठान का नाम-पता रहेगा।

जबकि, फेस लिफ्टिंग के तहत इन सभी इलाके में दुकान और मकान के आगे का जाे रंग-राेगन हाेगा, उस पर पब्लिक ओपिनियन लिया जा रहा है। स्मार्ट सिटी अधिकारी के मुताबिक फेस लिफ्टिंग का काम स्पीड पकड़ा है। 29 कराेड़ की लागत से डीएम आवास माेड़ से टावर हाेते हुए पंकज मार्केट के अलावे सूतापट्टी इलाके में सड़क मरम्मत हाेगी। एक तरह की दुकान और मकान के अगले हिस्से का कलर करने के लिए ताेड़-फाेड़ में जाे लागत आएगी, वह दुकानदारों और मकान मालिकों काे नहीं देना हाेगा। यह खर्च स्मार्ट सिटी से किया जाएगा।

ताेड़फाेड़ में हाेने वाला खर्च स्मार्ट सिटी मिशन देगा

शहर के लाेगाें से मांगी गई राय

स्मार्ट सिटी के एमडी सह नगर निगम के प्रशासक आशुतोष द्विवेदी का कहना है कि फेस लिफ्टिंग के तहत शहर के बड़े मार्केट में दुकान और मकान का अगला हिस्सा एक कलर रहेगा। शहर के लाेगाें से राय मांगी गई है। ब्लैक एंड व्हाइट में दुकानाें का नाम लिखा जाएगा। यह आकर्षक दिखेगा। स्मार्ट में तकरीबन 29 कराेड़ की लागत से फेस लिफ्टिंग का काम चल रहा है।

अभी ड्रेनेज बनाने और सड़कें दुरुस्त करने का चल रहा काम

फेस लिफ्टिंग प्रोजेक्ट के तहत शहर का बेहतर लुक करना है। इस प्रोजेक्ट में जाे इलाका शामिल है। उन सभी इलाकों में नए ढंग से ड्रेनेज बनाया जा रहा है। सड़काें काे भी दुरुस्त किया जाएगा। बिजली-टेलीफाेन के तार के जाल से मुक्ति मिलेगी। सड़काें पर मास्टिक लगाया जाएगा। 16 मार्च 21 काे श्री राम सागर कंस्ट्रक्शन के साथ 15 माह में काम करने का एग्रीमेंट हुआ था।

काम पूरा करने की डेडलाइन खत्म हाे चुकी है। एमडी की सख्ती के बाद काम में तेजी आई है। हल्का ब्लू व आसमानी कलर करने काे लेकर अभी मामला फंसा हुआ है। पब्लिक ओपिनियन के बाद सरैयागंज टावर के कलर काे भी अंतिम रूप दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...