औराई गैंगरेप कांड में तीन आरोपी गिरफ्तार:पिता ने कहा - तीन नहीं पांच युवकों ने किया था गैंगरेप; शराब के नशे में थे सभी

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
पुलिस हिरासत में आरोपी

मुजफ्फरपुर जिले के औराई थाना क्षेत्र के एक गांव में किशोरी से गैंगरेप कांड का पुलिस ने उद्भेदन कर लिया है। इस घटना में शामिल तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनकी पहचान औराई के संभूता गांव के सानू चौधरी, गौरव कुमार झा और दीपक कामती के रूप में हुई है। पीड़िता के पिता के बयान पर इन तीनों के अलावा दो और युवकों को नामजद करते हुए FIR दर्ज कराया गया है। घटना में इन तीनों के साथ ज्ञानू और कुंदन झा भी शामिल थे।

पिता ने पुलिस को दिए बयान में बताया की तीन नहीं बल्कि पांच आरोपियों ने मिलकर उनकी बेटी के साथ गैंगरेप किया था। डीएसपी पूर्वी मनोज पांडेय ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा की तीन आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है। अन्य दो की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। उन्हे भी शीघ्र ही दबोच लिया जाएगा। डीएसपी पूर्वी ने कहा की ठोस साक्ष्य के आधार पर सभी की गिरफ्तारी हुई है। इनके खिलाफ शीघ्र चार्जशीट दायर कर स्पीडी ट्रायल से सजा दिलाने की कवायद की जाएगी।

शराब पार्टी के बाद की घिनौनी करतूत

पीड़िता के पिता ने पुलिस को बताया की इन पांचों के अलावा चार-पांच और भी युवक थे जो इनके दोस्त थे और जजुआर गांव से आए थे। इन सब ने मिलकर एक स्कूल के बाहर शराब का सेवन किया था। इसके बाद मेला में गए थे। वहां आर्केस्ट्रा हो रहा था। लेकिन, कुछ विवाद के कारण आर्केस्ट्रा बंद हो गया। वहां से इनके सभी दोस्त चले गए। ये पांचों जब घर लौट रहे थे तो उसकी समय उनकी बेटी और अपनी चार सहेलियों के साथ घर लौट रही थी।

मुंह दबाकर गाछी में ले गया

आरोपियों के चुंगल से भागी किशोरी ने पुलिस और पीड़िता के पिता को बताया की वे लोग जब घर लौट रही थी तो पांच युवक दो बाइक से पीछे से आए। सभी भद्दा भद्दा कमेंट करने लगे। अन्य तीन किशोरी अपने घर चले गई। पांचों ने मिलकर उनदोनों का हाथ पकड़ लिया और मुंह दबाकर गाछी में ले गए। इसी बीच वह किसी तरह आरोपियों के चुंगल से छूटकर सुरक्षित अपने घर पहुंची और पूरी घटना की जानकारी पीड़िता के पिता को दी। वे लोग जब गाछी में पहुंचे तो देखा की बेटी बेहोश पड़ी थी और उसके गले और पैर पर जख्म के निशान थे। वहां से उसे लेकर फौरन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

गला दबाकर बारी- बारी से किया रेप

पीड़िता ने होश आने पर अपने पिता और पुलिस को बताया की वह जब विरोध कर भागने की कोशिश करने लगी तो आरोपियों ने उसका मुंह और गला दबा दिया। उसके साथ मारपीट भी की। चिल्लाने पर हत्या करने की धमकी देने लगा। इसके बाद सभी मिलकर बारी बारी से उसके साथ रेप किया। मारपीट और गला दबाने के कारण वह बेहोश हो गई थी। इधर, पीड़िता की हालत ने धीरे धीरे सुधार होने लगा है। हालांकि अभी भी वह पूरी तरह बोल पाने में असमर्थ है। घटना को लेकर वह काफी डरी सहमी है।

खबरें और भी हैं...