कोरोना अपडेट / कैंसर अस्पताल के ठेकेदार के बाद महिला स्टाफ भी काेराेना संक्रमित

Female staff also infected Kareena after cancer hospital contractor
X
Female staff also infected Kareena after cancer hospital contractor

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

मुजफ्फपुर. कैंसर अस्पताल के ठेकेदार के बाद एक महिला स्टाफ के काेराेना संक्रमित हाेने से एसकेएमसीएच व उसके आसपास के लाेगाें में हड़कंप है। पिछले दाे दिनाें से लगातार एसकेएमसीएच के डाॅक्टर, पारा मेडिकल स्टाॅफ एवं उनके परिजन जांच के लिए सैंपल दे रहे हैं। साथ ही काेराेना संक्रमित कैंसर अस्पताल के नर्स एवं अन्य के संपर्क में आए लाेगाें का भी सैंपल लिया जाएगा। शुक्रवार काे एसकेएमसीएच के सात स्टाॅफ सहित 11 संदिग्ध लाेगाें का सेंपल लिया गया। मेडिकल प्रशासन इसके संपर्क में आये लोगों की चेन के बारे में पता लगाने में जुट गयी है।

सभी की शनिवार को जांच कराया जाएगा। वहीं, बुद्धम अस्पताल से जुड़े एक और एंबुलेंस चालक की रिपोर्ट पाॅजिटिव आयी है। बताया गया कि दो दिन पहले चालक एक मरीज को लेकर मुशहरी जा रहा था। उसे बेला के पास क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया। झपहां व वीनू नगर के युवक चालक के संपर्क में आने की जानकारी दी गयी है। तीन लोगों के संपर्क में आए लोगों की चेन तैयार की जा रही है। प्रभारी अधीक्षक ने बताया कि एसकेएमसीएच में हुए जांच में पांच संदिग्ध की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। उन्हाेंने बताया कि अबतक 663 संदिग्धों का सैंपल लिया गया है। जिसमें से 611 संदिग्ध की रिपोर्ट आयी है। 52 संदिग्ध की रिपोर्ट आना बाकी है। वहीं 132 लोगों की स्क्रीनिंग की गयी।

संपर्क में आए लोगों की चेन पता कर रहा अस्पताल प्रशासन

  • मुराैल में तीन और पाॅजिटिव मरीज मिले, अब तक 6 कोरोना संक्रमित

प्रखंड के तीन अलग अलग गावों के तीन और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इस तरह मुराैल प्रखंड में अबतक 6 लाेग काेराेना के मरीज हाे गए हैं। मुरौल पीएचसी के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ ज्योति प्रसाद ने कहा कि कोरोना पोजिटिव तीनों मरीज 10 दिन पहले राजस्थान, त्रिकूट एवं महाराष्ट्र से आये थे। तीनों को प्रखंड क्वारेंटाइन सेंटर मुरौल मे रखा गया था। तीनों की उम्र क्रमशः 17, 18 और 22 वर्ष बताया गया है।

  • सैंपल देने के बाद संदिग्धों को नहीं किया जा रहा आइसाेलेट, डीएम ने अधीक्षक काे लिखा पत्र

मुजफ्फरपुर | एसकेएमसीएच में काेराेना जांच के लिए सैंपल देने के बाद उन्हें घर भेज दिया जा रहा है। जिससे एसकेएमसीएच इलाके में संक्रमण का खतरा बढ़ा है। उक्त शिकायत मिलने के बाद डीएम डाॅ. चंद्रशेखर सिंह ने एसकेएमसीएच के अधीक्षक काे पत्र लिखा है। डीएम को शिकायत मिली है की एसकेएमसीएच में कोरोना वायरस के लिए सैंपल देने वाले व्यक्ति को रिपोर्ट आने से पहले घर भेज दिया जाता है। डीएम ने कहा है कि जिन व्यक्तियाें का सैंपल लिया जाएगा उनके सैंपल के परिणाम अाने तक अाइसाेलेशन में रखा जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना