• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Fifth Note Of Musical Scale. Use Of Bengal's Agency, If Successful In The Demo In Katahipul Railway Culvert, Relief Is Possible

बायो रेमेडिएशन प्रोसेस से होगी सफाई:प. बंगाल की एजेंसी का प्रयोग, कटहीपुल रेलवे कल्वर्ट में डेमो में सफल रहा तो राहत संभव

मुजफ्फरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कटहीपुल रेलवे कल्वर्ट में डाला जा रहा केमिकल। - Dainik Bhaskar
कटहीपुल रेलवे कल्वर्ट में डाला जा रहा केमिकल।
  • रिजल्ट 3-4 दिनों में, मोतीझील इलाके में नहीं हाेगा जलजमाव

शहर की सबसे बड़ी जलजमाव की समस्या को लेकर पश्चिम बंगाल की एजेंसी ने सोमवार को रेलवे कल्वर्ट की सफाई के लिए बायो रेमेडिएशन प्रोसेस का डेमाे दिया। निगम अधिकारियों की मौजूदगी में कटही पुल रेलवे कल्वर्ट में दो दशक से जमा सिल्ट की सफाई के लिए केमिकल डाला गया। रिजल्ट तीन-चार दिनों में दिखेगा। यह प्रयोग सफल रहा तो शहर के 25% इलाके में जलजमाव से राहत मिलेगी।

पश्चिम बंगाल की प्रिया इंटरप्राइजेज के डायरेक्टर संजय कुमार ने निगम प्रशासन की उम्मीद जगाई है। एजेंसी का दावा है कि केमिकल से वर्षों से जमी करीब चार फीट गाद की सफाई आसान हो जाएगी। एजेंसी के अनुसार गाद टूट कर पानी के साथ बह जाएगी।

शहर के प्रमुख इलाकों काे राहत की उम्मीद
स्टेशन रोड, धर्मशाला चौक, मोतीझील और कल्याणी में जलजमाव की समस्या सर्वाधिक है। पांडेय गली व कटहीपुल कल्वर्ट पानी नहीं खींच रहा है। इमलीचट्टी, मालगोदाम चौक, स्टेशन रोड, कोर्ट व कलेक्ट्रेट परिसर, बैंक रोड, इस्लामपुर, तिलक मैदान रोड और जवाहरलाल रोड इलाके का पानी इसी रेलवे कल्वर्ट से निकलता है।

खबरें और भी हैं...