पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

घंटे भर निकली धूप रही बेअसर:बर्फीली हवा से दिन में भी रही रात जैसी ठंड, 3 दिन और राहत के आसार नहीं

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 15 दिनों से जारी शीतलहर ने बढ़ाई लोगों की परेशानी, हाड़ कंपानेवाली ठंड ने किया जीना मुहाल; आज भी रात से सुबह तक चलेगी तेज रफ्तार हवा

बर्फीली पछुआ हवा के थपेड़े से शनिवार काे दिन में भी रात जैसी ठंड का अहसास हुआ। पूरे दिन कनकनी जारी रही। जिला समेत उत्तर बिहार का पारा लुढ़का रहा। दाेपहर में कुछ ही देर के लिए सूर्य देव नजर अाए। हालांकि, हवाओं के कारण धूप बेअसर रही। इस तरह 48 घंटे के बाद भी शीतलहर से लाेगाें काे राहत नहीं मिली।

दिन के साथ ही रात के तापमान में 1.1 डिग्री की बढ़ोतरी के बाद भी सर्द हवा के कारण लाेग कड़ाके की ठंड व कनकनी से परेशान रहे। वहीं, मौसम विभाग ने कहा, अगले तीन दिनों तक ठंड से राहत की उम्मीद नहीं है। कनकनी भी बनी रहेगी। दिन व रात का तापमान भी सामान्य से कम ही रह सकता है। बता दें, 14 दिसंबर के बाद माैसम में हुए बदलाव का असर अभी खत्म नहीं हाे रहा।

सामान्य से 7.4 डिग्री नीचे रहा दिन का तापमान

शनिवार काे 1.1 डिग्री वृद्धि के साथ अधिकतम तापमान 15.8 डिग्री व 1.2 डिग्री वृद्धि के साथ न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री पर पहुंच गया। वृद्धि के बाद भी दिन का तापमान सामान्य से 7.4 डिग्री कम हाेने से लाेग दोपहर में भी शीतलहर से परेशान थे। दिन-रात के तापमान में केवल 7.4 डिग्री का अंतर बचने से लाेगाें काे अधिक ठंड का अहसास हाेता रहा।

पूसा कृषि मौसम सेवा के नाेडल अधिकारी डाॅ. ए. सत्तार ने बताया, अगले तीन दिनों तक जिला समेत उत्तर बिहार में अत्यधिक ठंड की स्थिति रहने की संभावना है। दोपहर में मौसम के साफ हाेने के बाद भी देर रात से सुबह तक काेहरा छाने से परेशानी बरकरार रहेगी। इस दाैरान 12 किलाेमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक पछुआ हवा के चलने से अधिक ठंड का अनुभव हाेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें