पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निशा पूजा भी आज रात में ही:आज से सजेगा मां दुर्गा का दरबार, श्रद्धालुओं ने पूरी श्रद्धा से बेलन्योति के जरिए मां को आमंत्रण दिया

मुजफ्फरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना को लेकर मंदिरों में ही हो रही पूजा; नहीं बने हैं पंडाल, मेला पर भी रोक
  • गोला दुर्गा स्थान समेत शहर के अन्य मंदिरों में भी की गई है भव्य सजावट

नवरात्र की षष्टी तिथि को मां कात्यायनी की आराधना की गई। साथ ही शहर के विभिन्न मंदिरों से शोभायात्रा निकाल बिल्व निमंत्रण के जरिए मां दुर्गा काे आमंत्रण दिया गया। इसके साथ ही सप्तमी तिथि शुक्रवार को माता का नेत्रपट खुल जाएगा। निशा पूजा शुक्रवार की रात में ही हाेगी, लेकिन अष्टमी का व्रत शनिवार काे रखा जाएगा।

उधर, काेराेना काे लेकर इस बार सिर्फ मंदिराें में ही माता का दरबार सजेगा। मेला पर प्रशासन की और से रोक है और पंडाल भी नहीं बने हैं। पंकज मार्केट स्थित साथी परिषद दुर्गापूजा समिति की ओर से किए गए बिल्व निमंत्रण में पं. विनोदानन्द झा, यजमान विनय झा व प्रवीण चौधरी शामिल थे।

लकड़ीढाई दुर्गा मंदिर परिसर में पुजारी नागेंद्र सहनी, प्रेम सहनी, विकास कुमार शामिल थे। बड़ी कोठिया भगवती स्थान में पं. प्रभात मिश्र, रामनरेश राय, नंदकिशोर राय, रंधीर सिंह, पं. दिनेश तिवारी, कृष्णनंदन तिवारी शामिल थे। भिखनपुरा स्थित मां मनोकामना दुर्गा मंदिर में पुजारी रमेश मिश्र ने बिल्व निमंत्रण कराया।

गोला रोड दुर्गा स्थान मंदिर की ओर से निकली शोभायात्रा में समिति के उपाध्यक्ष विनोद कुमार, पुजारी दिलीप पाठक,धीरज कुमार, सुबोध कुमार, उदय कुमार, देवदास गुप्ता, राजाकांत सिंह, मंजीत गुप्ता, आकाश कुमार, दीपक कुमार शामिल थे। कामाख्या मंदिर से आए पं. राघवशरण शास्त्री ने पूजा-अर्चना की। महेश बाबू चौक महामाया माई स्थान मंदिर से निकली शोभायात्रा में पुजारी आचार्य रंजीत नारायण तिवारी, वार्ड पार्षद हरिओम कुमार, अध्यक्ष रंजन कुमार साहू, कोषाध्यक्ष मुन्ना चौधरी समेत प्रमोद सहनी, हीरालाल चौधरी आदि थे।

हरिसभा में पूजा शुरू; इस बार सिर्फ कमेटी के लोगों को प्रवेश

हरिभक्ति प्रदायनी सभा के तत्वावधान में बंगाली समाज की ओर से हरिसभा चौक स्थित स्कूल के सभागार में कलश रखकर पूजा शुरू हाे गई। गुरुवार की देर रात माता का पट खुल गया। लेकिन, इस बार आम आदमी के प्रवेश पर पाबंदी है। पूजा समिति के सदस्याें काे ही प्रवेश मिल रहा है। गुरुवार काे भी प्रवेश के लिए टोकन की व्यवस्था रही।

सचिव देवाशीष गुहा ने बताया कि सदस्याें काे भी थर्मल स्कैनिंग के बाद प्रवेश मिल रहा है। इस बार प्रसाद का भी वितरण नहीं किया जाएगा। मौके पर गोपालचंद्र राय, प्रो. दुर्गापदो दास, अमरनाथ चटर्जी, शुभाशीष बोस, मृणाल कान्ति सिन्हा, किशोर गुहा, शिखा मजूमदार, नीला बोस, गौतम तालुकदार, आशीष सरकार, अरिंदम दास आदि थे। बता दें कि हरिसभा स्कूल में 120 वर्षाें से बंगाली विधि-विधान से मां दुर्गा की पूजा हाेती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें