पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • In Zeromile, They Charge A Week By Setting Up Shops On The Road, Cutting Receipts From Auto Drivers At The Dabang Intersection Itself, Beating Them On Protest

यहां भी रंगदारों से मिली हुई है पुलिस!:जीरोमाइल में सड़क पर दुकानें लगवाकर हफ्ता वसूलते हैं दबंग चौराहे पर ही ऑटो चालकों से काटते रसीद , विरोध पर करते पिटाई

मुजफ्फरपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जीरोमाइल चौक पर इसी तरह पूरी सड़क पर लगे रहते ऑटो व सजी रहतीं दुकानें। - Dainik Bhaskar
जीरोमाइल चौक पर इसी तरह पूरी सड़क पर लगे रहते ऑटो व सजी रहतीं दुकानें।
  • बैरिया से चांदनी चौक तक ऑटाे चालकों से की जा रही वसूली, अहियापुर थाने में एफआईआर दर्ज हाेने के बावजूद नहीं की जा रही कार्रवाई

जीराेमाइल में दबंगई के बल पर सड़क पर स्थाई रूप से कब्जा रहता है। गोलंबर के चाराें ओर दुकानें सजती हैं और इसके लिए दुकानदारों से हफ्ते की वसूली हाेती है। विरोध करनेवाले दुकानदार की रंगदार पिटाई कर देते हैं। बैरिया में ऑटाे स्टैंड है, लेकिन जीरोमाइल में सड़क पर ही कब्जा जमा ऑटाे स्टैंड बना लिया गया है। ...और सड़क पर लगे ऑटाे से लाल रसीद पर वसूली की जाती है।

अवैध कब्जे की वजह से जीरोमाइल गोलंबर पर दिनभर जाम लगा रहता है। इसमें एसकेएमसीएच आने-जाने वाले डॉक्टर और मरीज भी फंसे रहते हैं। यह सारा खेल पुलिस की नजर में है। अहियापुर थाने में रंगदाराें के खिलाफ एफआईआर के बाद भी पुलिस कार्रवाई नहीं करती है।

बता दें कि रंगदारी का विरोध करने पर मोबाइल कारोबारी अमित अचल और फल दुकानदार अरविंद कुमार से मारपीट की गई। इन्होंने अहियापुर थाने में 27 अगस्त काे एफआईआर दर्ज कराई। लेकिन, पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ अब तक काेई कार्रवाई नहीं की।

अमित की एफआईआर के अनुसार किसी राजा नाम के व्यक्ति के साथ 8-10 गुंडे रहते हैं। राजा जीरोमाइल के सभी दुकानदारों से हफ्ता वसूलता है। सड़क पर दुकानें सजानेवाले भी रंगदारी देते हैं। अमित का कहना है कि उन्हाेंने व फल वाले अरविंद ने रंगदारी देने से इनकार कर दिया ताे रंगदारों ने दाेनाें पर हमला बाेल दिया।

अवैध कब्जे से जीरोमाइल में दिनभर लगता जाम, फंसे रहते मरीज-डाॅक्टर भी

तीन एफआईआर, पर कार्रवाई किसी में नहीं
जीरोमाइल चौराहे पर रंगदारी की वसूली कोई नई बात नहीं है। पहले भी दुकानदारों से मारपीट की जा चुकी है। अहियापुर थाने में 3 एफआईआर दर्ज हैं। लेकिन, किसी में भी रंगदारों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई। दुकानदाराें का कहना है कि वसूली करनेवाले दबंगों का कुछ पुलिसकर्मियों से याराना है, इसलिए उनका खेल चलता है। अब अहियापुर में नए थानेदार विजय सिंह के लिए जीरोमाइल में रंगदारी वसूली बंद कराना चुनौती हाेगी। गोलंबर के चाराें तरफ सड़क से कब्जा हटाने के बाद ही ट्रैफिक जाम की समस्या से भी मुक्ति संभव है।

कराएंगे जांच, होगी सख्त कार्रवाई : एसएसपी

  • रंगदारी की डिमांड के लिए विवाद हुआ है या काेई और कारण है इसकी जांच कराई जाएगी। रंगदारी का मामला हाेने पर दबंगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऑटाे स्टैंड की समस्या पुरानी है। वहां स्थल चयन कर प्रशासन काे स्टैंड बनवाना है। -जयंत कांत, एसएसपी।
खबरें और भी हैं...