• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • MP Bhaskar, Who Came Out In Favor Of The Encroachers Who Are Cutting Silver On NH 28, Asked The Question And Said Will Withdraw The Letter, The Administration Will Recover The Fine

सड़क सुरक्षा में बाधा:एनएच 28 पर चांदी काट रहे अतिक्रमणकारियों के पक्ष में उतरे सांसद भास्कर ने पूछा सवाल तो कहा- वापस लेंगे पत्र, प्रशासन वसूले जुर्माना

मुजफ्फरपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सदर थाने के सामने सर्विस लेन पर इस तरह किया गया है अवैध अतिक्रमण। - Dainik Bhaskar
सदर थाने के सामने सर्विस लेन पर इस तरह किया गया है अवैध अतिक्रमण।

चांदनी चाैक से बीबीगंज, भगवानपुर, गाेबरसही व मझाैलिया हाेते हुए कच्ची पक्की तक फाेरलेन के सर्विस लेन पर भले ही हमारे और आपके चलने के लिए जगह नहीं है, लेकिन अतिक्रमणकारी इस पर माैज काट रहे हैं। कब्जा के कारण बीबीगंज क्राॅस स्थल, भगवानपुर, गाेबरसही, मझाैलिया एवं कच्ची पक्की चाैक ब्लैक स्पाॅट के रूप में चिह्नित हैं। कई स्थानाें काे ग्रे स्पाॅट के रूप में भी चिह्नित किया गया है। यहां कई की जान जा चुकी है।

करीब पांच वर्षाें से एनएचएआई सर्विस लेन काे कब्जामुक्त कराने के लिए प्रशासन से गुहार लगा रहा है। पर, सहयाेग के बजाय हमारे सांसद अजय निषाद कब्जाधारियाें की पैरवी में जुटे हुए हैं। डीएम काे पत्र लिखकर सांसद ने सड़क चाैड़ीकरण के दाैरान कच्ची पक्की में देवेंद्र पासवान सहित अन्य की दुकान काे बचाने का अनुराेध किया है। अतिरिक्त भूमि पर नई दुकान आवंटित करने काे कहा है। फिलहाल, यदि काेई उपाय नहीं निकलता है ताे फाेरलेन का काम शुरू हाेने से पहले तक यथास्थिति बनाए रखें।

सांसद ने कहा- प्रत्येक दस किमी पर बड़ी गाड़ियाें के लिए हाे पार्किंग की व्यवस्था, उनकी पहल पर ही मुजफ्फरपुर-बराैनी फाेरलेन किया जा रहा

इधर, दैनिक भास्कर ने जब सांसद से पूछा ताे उन्हाेंने स्पष्ट किया कि उनकी याद में ऐसा काेई पत्र उन्हाेंने नहीं लिखा है। यदि लिखा है ताे उस पत्र काे वह वापस लेते हैं। सांसद ने आगे बढ़कर कहा कि अतिक्रमणकारियाें पर सख्त कार्रवाई हाेनी चाहिए। क्याेंकि, उनकी पहल पर ही मुजफ्फरपुर-बराैनी सड़क काे फाेरलेन किया जा रहा है।

गैरेज संचालक, सदर थाना, कुछ हाेटल संचालक सहित अन्य दुकानदार मान नहीं रहे हैं। ऐसे में अतिक्रमण खाली कराने की नई व्यवस्था करनी हाेगी। उन्हाेंने प्रशासन काे सुझाव दिया है कि प्रति घंटे व्यवसायिक दर से जुर्माना वसूली की कार्रवाई करने से अतिक्रमणकारी हट सकते हैं। इसके साथ ही सांसद ने एनएचएआई काे सुझाव दिया है कि प्रत्येक 10 किलाेमीटर पर बड़ी गाड़ियाें की पार्किंग तथा लाइन हाेटल के लिए एनएचएआई काे जमीन अधिग्रहण करनी चाहिए।

सर्विस लेन पर सदर थाने का कब्जा

बीबीगंज से कच्ची पक्की तक अवैध ऑटाे पड़ाव, सदर थाना की ओर से जब्त की गई गाड़ियाें काे मुख्य पथ एवं सर्विस लेन में स्थायी रूप से पार्क किया जाना, आसपास के लाेगाें द्वारा एनएच की जमीन पर कब्जा कर गैरेज चलाने से 5 स्थानाें पर ब्लैक स्पाॅट बना हुआ है। चांदनी चाैक के पास भी गाड़ियाें की अवैध पार्किंग बरकरार है।

अतिक्रमण हटता, फिर हाे जाता कब्जा

ब्लैक स्पाॅट पर दुर्घटना हाेने पर प्रशासन कहीं-कहीं अतिक्रमण खाली करा देता है। पर, अगले दिन फिर से सड़क पर कब्जा जमा लेने हैं। 1 तथा 21 नवंबर के बाद एनएचएआई के परियाेजना निदेशक ने अंतिम बार 31 मार्च काे पत्र लिखकर जिला प्रशासन से अतिक्रमण खाली कराने का अनुराेध कर चुका है।

खबरें और भी हैं...