• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Muzaffarpur Chemical Blast Case;Throat Was Slit 5 Days Ago, Urea, Salt And Acid Were Kept In The Drum To Smelt The Dead Body; Fire Broke Out Due To Gas Leak

ब्लास्ट से खुला मर्डर का राज:पति की हत्या कर यूरिया, नमक और तेजाब में रखा शव, बदबू न आए इसलिए अगरबत्ती जलाई; गैस बनने से हुआ धमाका

मुजफ्फरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिहार के मुजफ्फरपुर में हैवानियत का हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां के टाउन थाना क्षेत्र के बालूघाट में शनिवार रात किताब कारोबारी सुनील शर्मा के घर में ब्लास्ट हुआ था। यह धमाका तीन मंजिला मकान की ऊपरी मंजिल पर रहने वाले किराएदार सुभाष कुमार के कमरे में हुआ था। पुलिस की जांच में सामने आया है कि एक महिला केमिकल के जरिए अपने पति की लाश ठिकाने लगा रही थी। इसी दौरान ब्लास्ट हो गया। इस काम में उसके प्रेमी ने भी साथ दिया।

पुलिस के मुताबिक, महिला का नाम राधा है। उसने अपने फ्लैट में प्रेमी सुभाष के साथ मिलकर पति राकेश सहनी की हत्या कर दी। शव को 8 टुकड़ों में काटा और एक ड्रम में रख दिया। शव को गलाने के लिए ड्रम में यूरिया, नमक और तेजाब भर दिया। कमरे से बदबू बाहर न जाए, इसलिए खिड़की और दरवाजे में कपड़े ठूंस दिए। हर रात कमरे के गेट पर अगरबत्ती जलाई जाती थी।

अमोनियम नाइट्रेट गैस बनने से हुआ धमाका
4 दिन तक यूरिया, सल्फ्यूरिक एसिड और नमक से शव गलने के कारण अमोनियम नाइट्रेट गैस बनी। इस गैस और जलती अगरबत्ती के संपर्क के कारण धमाका हो गया। हालांकि, SFL टीम का कहना है कि केमिकल की जांच और एनालिसिस के बाद ही पूरा सच सामने आएगा।

वहीं, पुलिस का कहना है कि बेहोशी की हालत में राकेश की हत्या की गई होगी। उसे पहले कोई नशा पिलाया गया होगा। वह बेहोश हो गया, तब उसकी गला रेतकर हत्या कर दी गई होगी।

पत्नी, उसके प्रेमी समेत 4 के खिलाफ FIR
पुलिस ने राकेश के भाई दिनेश सहनी के बयान पर हत्या की FIR दर्ज की है। इसमें राकेश की पत्नी राधा, प्रेमी सुभाष, साली कृष्णा देवी और साढ़ू विकास को नामजद किया गया है। दिनेश ने पुलिस को बताया कि राकेश 6 दिन से घर से लापता थे। दिनेश की पत्नी राकेश को खोजते हुए बालूघाट वाले कमरे पर पहुंची। यहां राकेश की पत्नी राधा ने बातों में उलझाकर दिनेश की पत्नी को लौटा दिया।

मुजफ्फरपुर के फ्लैट में ब्लास्ट से युवक की मौत:धमाके के बाद आग लगने से सब जलकर हुआ राख; धुआं छंटा तो क्षत-विक्षत लाश दिखी

आरोपी सुभाष राकेश का दोस्त था। राकेश के दिल्ली में रहने के दौरान सुभाष के उसकी पत्नी राधा से अवैध संबंध हो गए थे।
आरोपी सुभाष राकेश का दोस्त था। राकेश के दिल्ली में रहने के दौरान सुभाष के उसकी पत्नी राधा से अवैध संबंध हो गए थे।

दिल्ली से बुलाकर की गई हत्या
पुलिस जांच में पता लगा कि राकेश और हत्या का मुख्य आरोपी सुभाष शराब का धंधा करते थे। राकेश के ठिकाने से पहले भी पुलिस ने शराब बरामद की थी। उसके खिलाफ कोर्ट से वारंट जारी था। वह दिल्ली में छिपकर रहता था। तीज पर उसकी पत्नी ने राकेश को बुलाया था। इसके बाद सुभाष के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी।

पत्नी के सुभाष के साथ अवैध संबंध थे
राकेश के दिल्ली जाने के बाद सुभाष उसके परिवार की देखभाल करता था। इसी दौरान राकेश की पत्नी राधा से उसके अवैध संबंध बन गए। इसकी भनक राकेश को लग चुकी थी। वह दिल्ली से आया तो उसने गुस्सा जाहिर किया। आरोप है कि इसी बात पर राधा, सुभाष, राकेश की साली कृष्णा और साधु विकास ने मिलकर उसकी हत्या कर दी।

8 टुकड़ों में काटा गया था शव
पुलिस का कहना है कि राकेश का शव कम से कम 8 टुकड़ों में काटा गया था। इसके बाद ड्रम में रख दिया गया। हालांकि, कमरे से सिर्फ एक चाकू मिला था। पुलिस आशंका जता रही है कि हत्या में इस्तेमाल हथियार छुपा दिया गया। सभी आरोपी घटना के बाद से फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए SSP जयकांत ने 21 सदस्यीय टीम बनाई है।

खबरें और भी हैं...