मुजफ्फरपुर में जमीन विवाद को लेकर फायरिंग:फायर ब्रिगेड के अफसर पर आरोप, घर से एक खोखा बरामद, जांच में जुटी पुलिस

मुजफ्फरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विक्की यादव, जिसके घर पर गोली चली और बरामद खोखा। - Dainik Bhaskar
विक्की यादव, जिसके घर पर गोली चली और बरामद खोखा।

मुजफ्फरपुर शहर के टाउन थाना क्षेत्र स्थित जगन्नाथ ग्वाला गली में जमीन विवाद को लेकर फायरिंग हुई। एक पक्ष की तरफ से अशोक राय के घर पर दहशत फैलाने के लिए एक राउंड गोली चलाई गई। गोली शीशे वाली खिड़की को तोड़कर बिछावन पर जाकर लगी। खोखा वहीं पर मिला। गोली की आवाज पर मोहल्ले में अफरातफरी मच गई। घटना देर रात की बताई जा रही है। सूचना मिलने पर टाउन थाना के दरोगा ओमप्रकाश अभी मौके पर जांच करने पहुंचे।

अशोक राय ने बनारस बैंक चौक के समीप स्थित फायर ब्रिगेड कार्यालय के अफसर संतोष पांडेय पर गोली चलाने का आरोप लगाते हुए आवेदन दिया है। अशोक राय के भतीजा विक्की यादव ने पुलिस को बताया कि उनके घर के सामने पुश्तैनी जमीन है, जिसपर पूर्वजों के समय से उनका कब्जा है। इधर, फायर ब्रिगेड के अधिकारी उनकी निजी जमीन को सरकारी बताकर हथियाना चाहते हैं। इसका वे लोग विरोध करते हैं।

उनकी जमीन पर फायर अफसर और कर्मियों ने जबरन घेराबंदी भी कर लिया है। इसका विरोध करने पर रात को फायरिंग की गई। उस समय कमरे में एक बच्चा आइने के पास खड़ा था। संयोग से वह बाल-बाल बच गया। मामले में थानेदार ओमप्रकाश ने बताया कि जांच की जा रही है।

जांच करने पहुंची पुलिस।
जांच करने पहुंची पुलिस।

छेड़खानी करने का भी आरोप
विक्की ने बताया कि उनके घर में लड़कियां भी है। शाम को अक्सर फायर ब्रिगेड के कर्मी परिसर में फुटबॉल खेलते हैं। उनके घर की लड़कियों पर फब्तियां भी कसते हैं। इसका विरोध करने पर विवाद करते हैं।

50 वर्षों से कर रखा अतिक्रमण
इधर, फायर अफसर संतोष पांडेय ने अपने ऊपर लगाए गए आरोप को बेबुनियाद बताया है। कहा कि ये जमीन फायर ब्रिगेड की है। इनलोगों ने 50 वर्षों से कब्जा कर लिया। अब तो DM प्रणव कुमार द्वारा भी अतिक्रमण मुक्त करने का नोटिस उनलोगों को दिया जा चुका है। दुर्गा पूजा के कारण अतिक्रमण हटाने का काम रुक गया था। अब शीघ्र ही उक्त जमीन को अतिक्रमण मुक्त किया जाएगा। इसी को लेकर ये लोग विवाद उत्पन्न कर रहे हैं। ताकि काम आगे नहीं बढ़े। इस विवाद पर फायर अफसर ने कहा कि किसी ने रॉकेट छोड़ा था, जो खिड़की से अंदर प्रवेश कर गया था। उसे ही ये लोग गोली चलने की अफवाह फैला रहे हैं।

कहां से आया हथियार?
बता दें कि फायर अफसर के पास सरकारी हथियार नहीं होता है। अगर गोली चली है तो किस हथियार से चली। इस बिंदु पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। जब्त खोखा को FSL जांच के लिए भेजा जाएगा।

खबरें और भी हैं...